तकनीकी शिक्षा में दक्षता के लिए 50 प्रतिशत मेधाओं पर मुहर, आधे अभी शेष

विद्यार्थियों को तकनीकी शिक्षा में दक्ष करने के लिए शासन की ओर से छात्र छात्राओं को टैबलेट और स्मार्टफोन वितरण करने की योजना बनाई गई है। इसके लिए डिग्री कालेजों आईटीआई व अन्य उच्च शिक्षा की पढ़ाई कर रहे विद्यार्थियों के नाम शासन के पास भेजे गए हैं।

Anil KushwahaSun, 05 Dec 2021 03:36 PM (IST)
विद्यार्थियों को तकनीकी शिक्षा में दक्ष बनाने के लिए स्मार्टफोन व टैबलेट का वितरण किया जाना है।

अलीगढ़, जागरण संवाददाता। उच्च शिक्षा के विद्यार्थियों को तकनीकी शिक्षा में दक्ष करने के लिए शासन की ओर से छात्र छात्राओं को टैबलेट और स्मार्टफोन वितरण करने की योजना बनाई गई है। इसके लिए डिग्री कालेजों, आईटीआई व अन्य उच्च शिक्षा की पढ़ाई कर रहे विद्यार्थियों के नाम शासन के पास भेजे गए हैं। इनकी पात्रता को परखने के लिए दस्तावेजों का सत्यापन किया जा रहा है। जिसमें करीब-करीब आधे विद्यार्थियों का सत्यापन किया जा चुका है। जबकि लगभग आधे ही संख्या में विद्यार्थियों का सत्यापन होना बाकी है। टैबलेट-स्मार्टफोन वितरण योजना की जनपदस्तरीय समिति की बैठक कर जल्द सत्यापन का काम पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं।

सत्‍यापन के काम में तेजी लाएं : डीएम

आनलाइन फीड डाटा के सत्यापन की प्रशासनिक व शिक्षाधिकारियों ने विस्तृत समीक्षा भी की है। डीआइओएस डा. धर्मेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि फीडिंग एवं सत्यापन कार्य में तेजी लाने के निर्देश डीएम सेल्वा कुमारी जे की ओर से दिए गए हैं। इस योजना के तहत विद्यार्थियों को तकनीकी शिक्षा में दक्ष बनाने के लिए स्मार्टफोन व टैबलेट का वितरण किया जाना है। शुक्रवार को कलेक्ट्रेट में प्रदेश के युवाओं की तकनीक सशक्तिकरण की दिशा में प्रदेश सरकार द्वारा टेबलेट व स्मार्टफोन वितरण योजना की जनपद स्तरीय समिति की बैठक में योजना के क्रियान्वयन एवं अनुश्रवण पर वृहद समीक्षा की गई थी। एडीएम विधान जायसवाल ने सभी संबंधित विभागों एवं शिक्षण संस्थानों के प्रमुखों को पात्र विद्यार्थियों का डाटा संबंधित वेबसाइट पर लोड करने के निर्देश दिये। जनपद में अब तक 15133 विद्यार्थियों को लाभान्वित किए जाने हेतु आनलाइन फीड किया गया है। जिनमें 7706 विद्यार्थियों का डाटा संबंधित संस्थाओं द्वारा सत्यापन किया गया। उन्होंने कहा कि यह शासन की शीर्ष प्राथमिकता है। अतः कोई भी पात्र छात्र योजना से वंचित न रहने पाए। यह प्रत्येक दशा में सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि इस महत्वाकांक्षी योजना की सीधी मानीटरिंग मुख्यमंत्री एवं मुख्य सचिव उत्तर प्रदेश शासन स्तर से की जा रही है। उन्होंने आनलाइन फीड किए गए विद्यार्थियों का डाटा का सत्यापन का कार्य समय से पूरा करने के निर्देश दिए। विद्यालय digishaktiup.in पर अपने लागिन आईडी व पासवर्ड द्वारा अपने विद्यार्थियों के पंजीकरण व सत्यापन की स्थिति देख सकते हैं।

जनपदों और विभागों को लागइन आईडी और पासवर्ड दिए जा रहे

यूपीडेस्को द्वारा विभागों और जनपदों को लागइन आईडी और पासवर्ड दिए जा रहे हैं। उन्होंने योजना हेतु लक्षित एवं चिन्हित युवा लाभार्थी वर्ग की समीक्षा करते हुए वर्ष 2021 में उच्च शिक्षा विभाग में छात्रों की संख्या, वर्ष 2021 में तकनीकी शिक्षा के छात्रों की संख्या, वर्ष 2021 में तकनीकी शिक्षा डिप्लोमा के छात्रों की संख्या, वर्ष 2021 में कौशल प्रशिक्षण के तहत प्रशिक्षणरत छात्रों की संख्या, विगत तीन वर्षों में कौशल प्रशिक्षण प्राप्त छात्रों की संख्या, वर्ष 2021 में आईटीआई के तहत प्रशिक्षणरत छात्रों की संख्या, वर्ष 2021 में पैरामेडिकल तथा नर्सिंग छात्रों की संख्या देने के निर्देश दिए।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.