चौबीस घंटे में दो जगह मारपीट, दस लोग हिरासत में, सभी के खिलाफ शांति भंग की कार्रवाई

लोधा क्षेत्र के गांव नईमाबाद में रविवार रात दो पक्षों में चले ईंट पत्थर का मामला शांत नहीं हुआ कि सोमवार सुबह फिर अन्य दो पक्ष खेत की मेड़ के विवाद में आमने सामने आ गये जिसमें दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर आरोप लगाए।

Anil KushwahaMon, 06 Dec 2021 03:02 PM (IST)
लोधा क्षेत्र के गांव नईमाबाद में रविवार रात दो पक्षों में विवाद हो गया।

लीगढ़, जागरण संवाददाता। लोधा क्षेत्र के गांव नईमाबाद में रविवार रात दो पक्षों में चले ईंट पत्थर का मामला शांत नहीं हुआ कि सोमवार सुबह फिर अन्य दो पक्ष खेत की मेड़ के विवाद में आमने सामने आ गये, जिसमें दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर आरोप लगाए।

पुलिस ने दस लोगों को लिया हिरासत में

एक पक्ष के पूर्व प्रधान चंद्रपाल व बेटा अमित कुमार का आरोप है कि दूसरे पक्ष से सुनील कुमार, रिंकू, पिंकू, वेदू, अशोक व दौलत पाल ने ईट पत्थर बरसाने शुरु कर दिये जिसमें पूर्व प्रधान चंद्रपाल का बेटा घायल हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल का उपचार कराया एवं दोनों पक्ष से दो लोगों को हिरासत में ले लिया। थाना प्रभारी प्रवीन कुमार ने बताया कि रविवार रात्रि एवं सोमवार सुबह हुई पत्थर बाजी में चारों पक्ष से दस लोग हिरासत में लिये गये हैं, सभी के खिलाफ शांति भंग में कार्रवाई की गयी है।

हरियाणा रोडवेज ने टेंपो को रोंदा, भाई बहन घायल

लोधा। थाना सासनी के गांव रुहेरी निवासी राहुल पुत्र अमरसिंह सोमवार को अपनी बहन हेमलता को छोड़ने टेंपो से लोधा के गांव नदरोई जा रहा था। उसने अपने बहनोई अक्षय को बाइक लेकर थाना लोधा पहुंचने को कहा। जैसे ही थाना लोधा थाना पर टेंपो पहुंचा तभी पीछे से आ रही हरियाणा रोडवेज बस ने टेंपो को रौंद दिया जिसमें बहन भाई गंभीर घायल हो गये। मौके पर पहुंची पुलिस ने बस को चालक सहित हिरासत में लिया तथा घायलों को निजी अस्पताल भेजा जहां से डाक्टरों ने घायलों को दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल भेज दिया।

खेत में टूटे पड़े बिजली के तार की चपेट में आकर किसान की मौत

अलीगढ़। थाना महुआखेड़ा क्षेत्र के गड़राना गांव में खेत पर पानी लगाने गए किसान की बिजली के टूटे पड़े तार की चपेट में आकर शनिवार को मौत हो गई। हादसे के वक्त तार में करंट प्रवाहित हो रहा था। महुआखेड़ा थाने के इंस्पेक्टर सुनील कुमार ने बताया कि गांव गड़राना निवासी 32 वर्षीय कन्हैया उपाध्याय किसान थे। शाम करीब चार बजे वे पैदल ही खेत में पानी लगाने पहुंचे। खेत के पास से ही बिजली की लाइन गुजर रही है। किसी तरह लाइन का एक तार टूट कर खेत में जा गिरा। जैसे ही कन्हैया लाल खेत में पहुंचे टूटे बिजली के तार पर उनका पैर पड़ गया। इससे वे करंट की चपेट में आकर बुरी तरह से झुलस गए। पास ही खेतों में काम कर रहे किसानों ने यह नजारा देखा ताे वे दौड़कर मौके पर पहुंचे और कन्हैया उपाध्याय को लेकर निजी अस्पताल में पहुंचे। जहां डाक्टरों ने किसान को मृत घोषित कर दिया। कन्हैया चार बच्चों के पिता थे। हादसे के बाद पत्नी मोनी उपाध्याय समेत स्वजन बेहाल हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.