Arbitrariness of ADA officers: उपाध्यक्ष की हिदायतों के बाद भी एडीए कर्मचारियों की नहीं संभल रही कार्यशैली

फरियादियों को अपनी छोटी-छोटी समस्याओं को लेकर कई बार-कई बार आना पड़ता है। पिछले दिनों उपाध्यक्ष गौरांठ राठी ने इसके लिए पत्र लिखकर सभी कर्मचारी व अभियंताओं को हिदायत भी दे थी। निर्देश दिए थे कि समय से ही कार्यालय आएं। बिना अनुमति कोई भी मुख्यालय नहीं छोड़ेगा

Sandeep Kumar SaxenaThu, 02 Dec 2021 09:30 AM (IST)
अलीगढ़ विकास प्राधिकरण में इन दिनों बुरा हाल है।

अलीगढ़, जागरण संवाददाता। अलीगढ़ विकास प्राधिकरण में इन दिनों बुरा हाल है। यहां पर कर्मचारी व अभियंता न तो समय से और न ही समय से जाते हैं। काम की बजाय घंटों बातों में गुजार दिए जाते हैं। फरियादियों को अपनी छोटी-छोटी समस्याओं को लेकर कई बार-कई बार आना पड़ता है। पिछले दिनों उपाध्यक्ष गौरांठ राठी ने इसके लिए पत्र लिखकर सभी कर्मचारी व अभियंताओं को हिदायत भी दे थी। निर्देश दिए थे कि समय से ही कार्यालय आएं। बिना अनुमति कोई भी मुख्यालय नहीं छोड़ेगा, लेकिन इसके बाद भी कर्मचारियों की कार्यशैली में सुधार नहीं हुआ है। बुधवार को भी उपाध्यक्ष के निरीक्षण में पोल खुल गई। सात अभियंता व छह अन्य कर्मचारी हिदातय के बाद भी गायब मिलें। ऐसे में अब साफ है कि कर्मचारियों की कार्यशैली में सुधार के लिए उपाध्यक्ष को कठोर कदम उठाने होंगे।

यह हैंं हालात 

अलीगढ़ विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष गौरांग राठी पर नगर आयुक्त की अतिरिक्त जिम्मेदारी है। ऐसे में वह नगर निगम कार्यालय में अधिक समय देते हैं। इसी का फायदा उठाकर अलीगढ़ विकास प्राधिकरण के कर्मचारी कार्यालय से गायब रहते हैं। वह जब मन होता है आफिस आता है और जब मन आता है तो कार्यालय को छोड़कर चले जाते हैं। पिछले काफी दिनों से उपाध्यक्ष को इसकी शिकायत मिल रही थी। ऐसे में पिछले दिनों उपाध्यक्ष ने एक पत्र जारी कर सभी अफसर व कर्मचारियोें के बिना अनुमति जिला मुख्यालय न छोड़ने व कार्यालय से भी बिना अनुमति बाहर न जाने की हिदायत दी थी, लेकिन इसके बाद भी कर्मचारियों की कार्यशैली में सुधार नहीं हो रहा है। ऐसे में बुधवार को उपाध्यक्ष ने सुबह कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। इसमें प्राधिकरण के बुरे हाल की पूरी खोल गई।उपाध्यक्ष को लेखा विभाग में लिपिक सुमित कुमार, नियोजन विभाग में मानचित्र कार बृजेश पाल सिंह, प्रीति सागर, लेखपाल अंगद सिंह, अधिष्ठान अनुभाग में लिपिक सुरेंद्र पाल सिंह, संपत्ति विभाग में लिपिक अर्पण सिंह अनुपस्थित मिले। इनके अलावा अभियंत्रण विभाग में सहायक अभियंता महाराज सिंह, प्रभारी सहायक अभियंता आरके गुप्ता, अवर अभियंता मनोज द्विवेदी, पीयूष त्यागी, श्याम मोहन शुक्ला, गंगेश कुमार सिंह, दूधनाथ वर्मा भी बिना अवकाश प्रार्थना पत्र दिए कार्यालय से अनुपस्थित मिले। इन्हें कारण बताओ नोटिस जारी हुआ है।

साफ-सफाई में भी खामियां

उपाध्यक्ष को निरीक्षण में साफ-सफाई में भी खामियां मिली। ऐसे में सुधार के निर्देश दिए गए हैं। सबसे अधिक साफ-सफाई कार्यालयों के बाहर रखने के निर्देश दिए गए हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.