चेकिंग के दौरान चार ट्रक सहित 18 भैंस भरी कैंटर पकड़ा गया, पांच वाहन सीज

लोधा में बुधवार सुबह करीब चार बजे एआरटीओ एवं एएसपी गभाना चैकिंग पर थे तभी रोड़ी बदरपुर और बालू से ओवरलोड भरे तीन ट्रक एवं एक डम्पर को पकड़ लिया इसी बीच राजस्थान के जिला अलवर से अलीगढ आ रही 18 भेंस से भरी केंटर को भी पकड़ लिया।

Anil KushwahaPublish:Wed, 08 Dec 2021 03:05 PM (IST) Updated:Wed, 08 Dec 2021 03:12 PM (IST)
चेकिंग के दौरान चार ट्रक सहित 18 भैंस भरी कैंटर पकड़ा गया, पांच वाहन सीज
चेकिंग के दौरान चार ट्रक सहित 18 भैंस भरी कैंटर पकड़ा गया, पांच वाहन सीज

अलीगढ़, जागरण संवाददाता। थाना लोधा क्षेत्र में बुधवार सुबह करीब चार बजे एआरटीओ एवं एएसपी गभाना चेकिंग पर थे तभी रोड़ी, बदरपुर और बालू से ओवरलोड भरे तीन ट्रक एवं एक डम्पर को पकड़ लिया इसी बीच राजस्थान के जिला अलवर से अलीगढ आ रही 18 भेंस से भरी कैंटर को भी पकड़ लिया। बताया गया कि मौके पर खनन अधिकारी भी पहुंच गये और पांचों वाहनों को सीज कर दिया गया।

क्षमता से अधिक होते हैं पशु

कैंटर में जहां चार से छः पशु की क्षमता होती है उसमें भी जबरन भूसे की तरह पशुओं को 18 से 30 पशु तक भर दिये जाते हैं।

तीन दिन पूर्व भी पकड़ी थी केंटर

तीन दिन पूर्व गोंडा रोड पर गांव गोविंद पुर फगोई के पास कार में टक्कर मारकर कैंटर चालक भाग रहा था कार चालक ने कैंटर को रुकवाने का प्रयास किया था जिसमें कैंटर चालक कार सवार को लटकाये ले जा रहा था कार चालक के शोर मचाने पर ग्रामीणों ने डेढ़ किलोमीटर तक पीछा करके पकड़ा और पुलिस को सोंपा था उस कैंटर में भी 25 पशु अवैध तरीके से भरे थे।

किसानों के सुपुर्द किये पशु

कार्य वाहक थाना प्रभारी अनिल यादव ने बताया कि कैंटर चालक कासिम व कामिल निवासी दोहा फिरोजपुर राजस्थान के खिलाफ पशुक्रूरता में मुकदमा दर्ज किया गया है एवं कैंटर अवैध रुप से लदी 18 भैंस को लोधा के किसानों के सुपुर्द किया गया है।

मैनपुरी में तैनात दारोगा की बीमारी से मौत

अलीगढ़ । बन्नादेवी थाना क्षेत्र के बीमा नगर में रहने वाले दरोगा की बीमारी से मौत हो गई। दारोगा मैनपुरी में तैनात थे। कुछ दिन पहले ब्रेन हेमरेज होने के चलते उन्हें आगरा के अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां से दिल्ली रेफर कर दिया था। मूलरूप से आगरा के बरहन थाना क्षेत्र के गांव नगला गोल निवासी 51 वर्षीय संजय सिंह पुलिस विभाग में दारोगा थे। वर्तमान में मैनपुरी के बरनाल थाना में तैनाती थी। परिवार में पत्नी व तीन बच्चे हैं। पुलिस के मुताबिक, 23 नवंबर को संजय को ब्रेन हेमरेज की शिकायत हुई थी। इसके बाद आगरा के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां से दिल्ली के एक अस्पताल में रेफर कर दिया। देररात स्वजन अलीगढ़ लेकर आ गए। इधर, मंगलवार तड़के संजय की मौत हो गई। इंस्पेक्टर सुरेश बाबू ने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद शव स्वजन के सपुर्द कर दिया है। बीमारी के चलते संजय की मौत हुई है।