Corona Vaccination Alert : मेरी एंटीबाडी 15...तुम्हारी कितनी है,विस्‍तार जानिए क्‍याा है Antibody जांच Aligarh News

शहर के पैथोलाजिस्ट डा. भरत वार्ष्णेय खुद एंडीबाडी टेस्ट करा चुके हैं।

कोविड वैक्सीन तो लगवा ली अब स्वास्थ्य एवं फ्रंटलाइनएंडीबाडी टेस्ट कर्मियों में उत्सुकता इस बात को लेकर है कि वैक्सीन कितनी असरदार रही। इसके लिए कई डाक्टर व अन्य कर्मचारी लैबों पर पहुंचकर एंडीबाडी टेस्ट करवा रहे हैं।

Sandeep kumar SaxenaWed, 24 Feb 2021 06:56 AM (IST)

अलीगढ़, जेएनएन। कोविड वैक्सीन तो लगवा ली, अब स्वास्थ्य एवं फ्रंटलाइन,एंडीबाडी टेस्ट कर्मियों में उत्सुकता इस बात को लेकर है कि वैक्सीन कितनी असरदार रही। इसके लिए कई डाक्टर व अन्य कर्मचारी लैबों पर पहुंचकर एंडीबाडी टेस्ट करवा रहे हैं। शहर के पैथोलाजिस्ट डा. भरत वार्ष्णेय खुद एंडीबाडी टेस्ट करा चुके हैं, जिसमें उनका स्तर 28 पाया गया। यानि, वैक्सीन अपना काम कर रही है। हालांकि, अलीगढ़ में कुछ ही लैबों में इस टेस्ट की सुविधा शुरू हुई है, इसलिए कुछ लोग बाहर जाकर भी अपनी एंटीबाडी का स्तर पता कर रहे हैं। काफी लोगों में आंशिक रोग प्रतिरोधक क्षमता बन गई है। इसलिए सभी दूसरी डोज लगवाने की तैयारी में हैं। 

 ये है एंटीबाडी टेस्ट 

डा. भरत ने बताया कि कोविड-19 वायरस कई तरह की प्रोटीन से बना है। इन प्रोटीन के विरुद्ध शरीर में तैयार प्रतिरोधक क्षमता को ही एंटीबाडी कहते हैं। यही शरीर में बैक्टीरिया व वायरस को बेअसर अथवा नष्ट करती है। शोध के अनुसार एंडीबाडी तैयार होने पर ब्लड में टाइटर की वैल्यू न्यूनतम एक व अधिकतम की कोई सीमा नहीं। टाइटर की वैल्यू में न्यूट्रलाइजिंग फैक्टर सबसे अहम है। मैंने अपना एंटीबाडी टेस्ट कराया, जो 28 आया है। इसका मतलब है कि वैक्सीन कारगर है। काफी लोग एंडीबाडी टेस्ट कराने के लिए अलीगढ़ या बाहर जा रहे हैं। 

 

टेस्ट पर बंदिशें भी 

पैथोलाजिस्ट डा.अनिल मिश्रा का कहना है कि शोधों के जरिए खबरें आ रही हैं कि पहली डोज के बाद 60 फीसद तक एंटीबाडी शरीर में तैयार हो रही है, लेकिन एंडीबाडी टेस्ट के लिए सरकार ने गाइडलाइन तय कर रखी है। एंटीबाडी टेस्ट करने वाली लैबों के लिए मरीजों के डेटा रखने की बाध्यता रख दी है। यदि किसी ऐसे व्यक्ति का टेस्ट कर दिया जाए जिसने वैक्सीन ही न लगवाई हो और उसके शरीर में कोई एंडीबाडी मिल गई तो माना जाएगा कि वह भी किसी संक्रमण से ग्रस्त रहा। ऐसे में पैथालाजिस्ट की समस्या बढ़ जाएगी। इसलिए मैंने यह टेस्ट शुरू नहीं किया है। 

 लाल पैथोलाजी में सुविधा 

शरीर में एंडीबाडी का पता लगाने के लिए लोगों ने लैबों पर पहुंचना शुरू कर दिया है। अलीगढ़ में रामघाट रोड स्थित लाल पैथोलाजी लैब पर यह सुविधा उपलब्ध है। हालांकि, ये कलेक्शन सेंटर है। इसके अलावा कई निजी लैबों में एंडीबाडी टेस्ट किए जा रहे हैं। काफी लोग आगरा, मेरठ, नोएडा व दिल्ली जाकर भी टेस्ट करा चुके हैं। टेस्ट कराने के बाद कई कर्मचारियों को एंडीबाडी के स्तर पर चर्चा करते हुए देखा जा रहा है।

 

शोध में सामने आया है कि कोविड वैक्सीन से शरीर में एंटीबाडी तैयार हो रही है। अभी सरकार लैबों में यह सुविधा नहीं। कुछ निजी लैब कर रही हैं, वहां टेस्ट कराया जा सकता है। यदि किसी लैब को कोई परेशानी है तो कार्यालय में संपर्क किया जा सकता है। विभाग सहयोग करेगा। 

- डा. बीपीएस कल्याणी, सीएमओ।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.