BSP Meeting in Aligarh: चुनाव से पहले बसपा को मेहनती व ईमानदार नेताओं की तलाश

सपा के पूर्व राज्यसभा सांसद व मुख्य सेक्टर प्रभारी बाबू मुनकाद अली ने कहा कि आगामी चुनाव में जीत के लिए संगठन को बूथ स्तर तक मजबूत होना जरूरी है। इस कार्य में अभी से जुट जाएं। निष्क्रय पदाधिकारियों को बाहर करें।

Sandeep Kumar SaxenaSun, 26 Sep 2021 09:28 AM (IST)
चुनाव में जीत के लिए संगठन को बूथ स्तर तक मजबूत होना जरूरी है।

अलीगढ़, जेएनएन। बसपा के पूर्व राज्यसभा सांसद व मुख्य सेक्टर प्रभारी बाबू मुनकाद अली ने कहा कि आगामी चुनाव में जीत के लिए संगठन को बूथ स्तर तक मजबूत होना जरूरी है। इस कार्य में अभी से जुट जाएं। निष्क्रय पदाधिकारियों को बाहर करें। बहन मायावती इसे लेकर काफी गंभीर है कि संगठन में मेहनती व ईमानदार नेताओं को ही जगह दी जाए। उनका संदेश साफ है, चुनाव में ऐसे ही नेताओं को उतारा जाएगा जिनकी क्षवि ठीक होगी। अब देखना यह भी है कि बसपा इसमें कितना खरा उतरी है।बाबू मुनकाद अली, शनिवार को सूतमिल चौराहा स्थित कार्यालय पर मंडल स्तरीय बैठक को संबोधित कर रहे थे।

कार्यकर्ताओं में जोश भरा

नौ अक्टूबर को बसपा संस्थापक काशीराम की पुण्यतिथि पर लखनऊ में आयोजित श्रद्धांजलि सभा की तैयारियों की समीक्षा के दौरान बाबू मुनकाद अली ने कहा कि लीगढ़, हाथरस, एटा व कासगंज के जिलाध्यक्षों को तत्काल अपनी जिला व विधानसभा कमेटियों को प्रचार-प्रसार में लगाने के निर्देश दिए। विशिष्ट अतिथि अलीगढ़ मंडल के मुख्य सेक्टर प्रभारी सूरज सिंह ने जिलाध्यक्षों से वाहनों की तैयारी व योग्य कार्यकर्ताओं को जिम्मेदारी देने के निर्देश दिए। मुख्य सेक्टर प्रभारी रणवीर कश्यप व अशोक सिंह ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा। जिलाध्यक्ष रतन दीप सिंह ने कहा, अलीगढ़ से रिकार्ड कार्यकर्ता लखनऊ जाकर श्रद्धांजलि समारोह को सफल बनाएंगे। जनता ने बसपा को फिर से सत्ता सौंपने का निर्णय ले लिया है, समारोह से इसका संदेश पूरे प्रदेश में जाएगा। इस मौके पर मुख्य सेक्टर प्रभारी गजराज विमल, विजेंद्र सिंह विक्रम, महेश बाबू कुशवाह, पूर्व मंत्री राजवीर सिंह, तिलकराज यादव, अर्जुन स्वामी, छत्रपति शिवाजी निमकर, जिलाध्यक्ष एटा बलबीर भास्कर, सौबी कुरेशी, इंद्रजीत, हरेंद्र कुमार छत्रपाल सिंह, रविंद्र बौद्ध, प्रदीप मुनि बघेल, अशोक कश्यप, लवकुश शर्मा, रंजीत वाल्मीक, योगेंद्र निमेश आदि उपस्थित रहे।

28 से होगी ईवीएम व वीवीपेट की एफएलसी

अलीगढ़ : विधानसभा चुनाव को लेकर निर्वाचन विभाग की तैयारियों तेजी से चल रही हैं। अब 28 सितंबर से ईवीएम व वीवीपैट की एफएलसी शुरू होने जा रही हैं। प्रशासन की ओर से इसका आदेश जारी कर दिया गया है। उप जिला निर्वाचन अधिकारी राकेश कुमार पटेल ने बताया कि ईवीएम वेयरहाउस में एफएलसी का कार्य होगा। इसके लिए बंदोबस्त अधिकारी चकबंदी व सहायक विकास अधिकारी को जिम्मेदारी दी गई है। उन्होंने बताया कि राजनीतिक दल आगामी विधानसभा निर्वाचन 2022 में निर्वाचन लड़ने वाले प्रत्याशी को इसके लिए नामित कर सकते हैं। एफएलसी की कार्य अवधि में प्रत्येक दल अपने-अपने प्रतिनिधियों की उपस्थिति के लिए अपने जिलाध्यक्ष के माध्यम से लिखित रूप में नियुक्त पत्र निर्वाचन कार्यालय में भिजवा दें।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.