Aligarh BJP Politics : सशक्त अध्यक्ष की तैयारी में भाजपा

भाजपा संगठन के प्रमुख खाली पड़े पदों पर मजबूत और सशक्त अध्यक्ष की नियुक्ति की तैयारी में है। वर्ष 2022 के चुनाव को ध्यान में रखकर पार्टी ऐसे कार्यकर्ताओं को पद देना चाहती है जो चुनाव में दमदारी दिखा सकें।

Sandeep Kumar SaxenaTue, 15 Jun 2021 11:53 AM (IST)
मजबूत और सशक्त अध्यक्ष की नियुक्ति की तैयारी में है भाजपा।

अलीगढ़, जेएनएन। भाजपा संगठन के प्रमुख खाली पड़े पदों पर मजबूत और सशक्त अध्यक्ष की नियुक्ति की तैयारी में है। वर्ष 2022 के चुनाव को ध्यान में रखकर पार्टी ऐसे कार्यकर्ताओं को पद देना चाहती है जो चुनाव में दमदारी दिखा सकें। इसलिए लखनऊ से भी साफ निर्देश दिया गया है कि संगठन से जुड़ाव और संघर्षशील पदाधिकारियों को प्रमुख पदों पर रखा जाए। भाजपा में सबसे प्रमुख युवा मोर्चा के पद माने जाते हैं।

भाजपा ने शुरू की चुनाव की तैयारी

भाजपा की चुनावी रणनीति हमेशा से बहुत मारक रही है। इसलिए चुनाव के डेढ़ साल पहले से ही पार्टी तैयारी में जुट जाया करती है। हालांकि, इधर कोरोना के चलते पार्टी ऐसा नहीं कर पा रही है, वरना 2014 के लोकसभा चुनाव, 2017 के विधानसभा चुनाव और 2019 के प्रदेश में विधानसभा चुनाव में भाजपा ने डेढ़ साल पहले से ही तैयारियां शुरू कर दीं थीं। एक साल पहले से विशाल रैलियां शुरू हो जाया करतीं थीं। मगर, भाजपा संगठन के चुनाव को आगामी 2022 के विधानसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर चल रही है। इसलिए भारतीय जनता युवा मोर्चा के अध्यक्षों को सशक्त और मजबूत रुप में देखना चाहती है। इस समय भाजयुमो जिला और महानगर दोनों को लेकर खूब कसमकस हो रही है। तमाम नेताओं के परिवार से भी युवा भी मोर्चा के माध्यम से आगे की राजनीति के रास्ते को प्रशस्त करना चाहते हैं, मगर पार्टी ने साफ निर्देश दे दिया है कि सशक्त और मजबूत कार्यकर्ताओं को ही मौका दिया जाए, जिन्हें संगठन की समझ हो, कार्यकर्ताओं में पकड़ हो और जो प्रभावी ढंग से संगठन को चला सकें। क्योंकि विधानसभा चुनाव में सबसे अधिक युवा मोर्चा की भूमिका होती है। प्रचार-प्रसार में मोर्चा के कार्यकर्ताओं को लगाया जाता है। बड़े-बड़े सम्मेलन में भी मोर्चा को आगे किया जाता है। इसलिए पार्टी का साफ निर्देश है कि युवा मोर्चा के अध्यक्ष को काफी मजबूत होना चाहिए। जिलाध्यक्ष चौधरी ऋषिपाल सिंह का कहना है कि युवा मोर्चा के माध्यम से पार्टी के तमाम नेता शीर्ष पर पहुंचे। युवाओं के बीच इतना सशक्त संगठन किसी और दल के पास नहीं है, जितना भाजपा के पास है। इसलिए पार्टी तीन प्रमुख नाम प्रदेश कार्यालय भेजे जाएंगे, वहां से मुहर लगेगी। महानगर अध्यक्ष डा. विवेक सारस्वत ने कहा कि युवा मोर्चा के माध्मय से ही वह आगे बढ़े हैं, मोर्चा के माध्यम से कार्यकर्ताओं को निखरने का मौका मिलता है, पार्टी के निर्देश के अनुसार ही प्रमुख नाम भेजे जाएंगे। फिलहाल पार्टी में जिले और महानगर दोनों अध्यक्षों के लिए काफी संघर्ष चल रहा है। 20 के करीब कार्यकर्ता हैं, जो अध्यक्ष पद के लिए दावा ठोक रहे हैं। पार्टी जल्द ही इसमें से जिला और महानगर से तीन-तीन नाम छांटकर भेजेगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.