एएमयू में गोली से घायल अरमान दिल्ली रेफर, छह पर मुकदमा

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) परिसर में मंगलवार रात हुए गोलीकाड में घायल अरमान को दिल्ली रेफर किया है।

JagranThu, 05 Aug 2021 02:03 AM (IST)
एएमयू में गोली से घायल अरमान दिल्ली रेफर, छह पर मुकदमा

जासं, अलीगढ़ : अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) परिसर में मंगलवार रात हुए गोलीकाड में घायल अरमान को जेएन मेडिकल कालेज से दिल्ली रेफर कर दिया गया है। पुलिस ने छह लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके जाच शुरू कर दी है। कैंपस के सीसीटीवी खंगाले गए हैं। हालाकि, इनमें किसी का चेहरा स्पष्ट नहीं दिखा है। पुलिस के मुताबिक, दो गुटों के बीच हुए विवाद में युवक को गोली लगी थी। हर पहलू पर जाच की जा रही है।

गोली लगने से घायल अरमान मूलरूप से बिहार के कटिहार के नेपरा इलाके का है। वह जमालपुर क्षेत्र में रहकर यहा के एक कालेज में पढ़ रहा है। मामले की रिपोर्ट दर्ज कराते हुए अरमान ने बताया है कि रात करीब नौ बजे चुंगी से जकरिया जा रहा था। तभी डक प्वाइंट पर खड़े लड़कों ने रोक लिया। आरोपितों ने गालीगलौज करते हुए मारपीट शुरू की। इसके बाद कई राउंड फायर किए। एक गोली उसे लगी है। दोस्तों ने मेडिकल कालेज पहुंचाया। हालत में सुधार न होने पर बुधवार दोपहर को उसे दिल्ली रेफर कर दिया गया। अरमान के साथियों का आरोप है कि मेडिकल चौकी प्रभारी नौशाद ने हाथ देकर उसे रोका था। तब वहा काफी लड़के खड़े थे। कुछ देर बाद नौशाद चले गए तो वहा खड़े लड़कों ने घेर लिया, जबकि चौकी इंचार्ज नौशाद ने ऐसी किसी बात से इन्कार किया है। हालाकि, अरमान ने भी बातचीत में चौकी इंचार्ज द्वारा रोके जाने की बात से इन्कार किया। न ही उसने तहरीर में इसका जिक्र किया है।

एक दिन पहले शिकायत लेकर आया था अरशद

मुकदमे में छह लोग नामजद हैं। इनमें जमालपुर निवासी अरशद मलिक, अख्तर मलिक, हमजा, जयगंज निवासी बाबर, मुरादाबाद निवासी सादिक, यूनियन स्कूल के पास रहने वाला फराज शामिल है। चौकी इंचार्ज नौशाद ने बताया कि नामजद अरशद दो अगस्त को शाम को थाने में शिकायत लेकर आया था। बताया था कि आरएम हाल में झगड़ा हुआ है। उसके साथ मारपीट की गई है। अरशद खुद को एएमयू छात्र बता रहा था। ऐसे में उसे प्राक्टर के जरिये शिकायत देने की बात कही, लेकिन वहा पहुंचने पर भी उससे छात्र की आइडी मागी गई तो नहीं दिखा सका। इसके बाद अरशद सुबह मेडिकल चौकी आया था। शिकायत के आधार पर जाच की जा रही थी। तभी शाम को सात बजे अरशद ने फोन करके बताया कि मारपीट करने वाला युवक चुंगी से होते हुए डक प्वाइंट की तरफ आ रहा है। इस पर नौशाद वहा पहुंचे। अरशद के बताए हुलिये के आधार पर युवक को रोका गया था, लेकिन उसने अपनी आइडी दिखाई तो उसे जाने दिया। इसके बाद नौशाद वहा से चले आए। कुछ देर बाद फायरिंग की सूचना मिली। यहा पुराने विवाद में दो गुट आमने-सामने आ गए थे।

युवती के खिलाफ की थी कार्रवाई

चौकी इंचार्ज ने बताया कि क्षेत्र के इलाके में रहने वाली युवती ने अपने पति को छोड़ दिया है। युवती अपने मायके के पास किराए पर रहती है। उसके पास तमाम लोग आते-जाते रहते हैं, जिसके चलते मायके पक्ष के लोगों को असहज महसूस होता है। इधर, अरमान की तरफ से आरोप लगाने वाला युवक कुछ दिनों पहले उसी युवती को लेकर चौकी आया था। युवती के खिलाफ शाति व्यवस्था कायम रखने के लिए 107-16 की कार्रवाई की थी। इसीलिए युवक अब अनर्गल आरोप लगा रहा है।

युवक को गोली मारने के मामले में छह लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। यह विवाद दो गुटों के बीच का था, जिसमें तीसरे युवक को गोली लगी। कैंपस में लगे सीसीटीवी देखे जा रहे हैं।

कुलदीप सिंह गुनावत, एसपी सिटी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.