Aligarh Weather Forecast : आसमान पर छाए बादल, सर्द हवा से ठंड बढ़ी

मौसम का मिजाज फिर करवट ले रहा है। आसमान पर बादल छाए रहने व सर्द हवाअों से वातावरण में ठंडक घुलनी शुरू हो गई है। दो दिनों से आसमान पर बादल छाए हुए हैं। आज भी सूरज के दर्शन नहीं हुए हैं।

Sandeep Kumar SaxenaFri, 03 Dec 2021 09:44 AM (IST)
बूंदाबांदी व बारिश के बाद शुक्रवार सुबह से ही सर्द हवा चल रही है।

अलीगढ़, जागरण संवाददाता। मौसम का मिजाज फिर करवट ले रहा है। आसमान पर बादल छाए रहने व सर्द हवाअों से वातावरण में ठंडक घुलनी शुरू हो गई है। दो दिनों से आसमान पर बादल छाए हुए हैं। आज भी सूरज के दर्शन नहीं हुए हैं। बूंदाबांदी व बारिश के बाद शुक्रवार सुबह से ही सर्द हवा चल रही है, इससे ठंड और बढ़ गयी।सप्ताहभर में ही तापमान धड़ाम से नीचे आ गया है। आज दोपहर में अधिकतम तापमान तीन डिग्री बढ़ते हुए 24 डिग्री व न्यूनतम तापमान में एक डिग्री की गिरावट के साथ 10 डिग्री सेल्सियस तक रहने की उम्मीद है।

बादल छाए रहेंगे

मौसम विशेषज्ञों के अनुसार इस सप्ताह आसमान पर बादल छाए रहेंगे। बूंदाबांदी व बारिश की संभावना है। जिससे न्यूनतम तापमान में पांच से सात डिग्री तक की गिरावट दर्ज हो सकती है। वहीं, दिसंबर के दूसरे सप्ताह में भंयकर ठंड बढ़ने की आशंका है। इसमें दिन के समय तो धूप निकलेगी, लेकिन रात में सर्द हवा चलने से ठिठुरन बढ़ जाएगी। अधिकतम तापमान 22-22 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान चार डिग्री सेल्सियस तक पहुंचेगा। ऐसे में सर्दी लोगों की हालत खस्ता कर सकती है। विगत दो दिनों से इसका अहसास भी हो रहा है। बुधवार की रात से ही सर्द हवा चलने से राहगीरों को काफी परेशानी हुई। लोग ठंड में ठिठुरते नजर आ आए। गुरुवार को बूंदाबांदी व बारिश के बाद वातावरण में ठंडक घुल गई। बाजारों में गर्म कपड़ों की बिक्री अचानक बढ़ गई है। रात के समय सार्वजनिक स्थलों पर लोग अलाव जलाकर ठंड से बचाव करते नजर आए। चाय की दुकानों पर भी देररात तक रौनक नजर आने लगी है। शुक्रवार को भी मौसम काफी सर्द है। चिकित्सकों ने लोगों को सेहत के प्रति सावधानी बरतने की सलाह दी है।

रैनबसेरे नहीं खुले

ठंड बढ़ने के साथ राहगीरों की परेशानी बढ़ गई। ठंड अचानक बढ़ गई है, लेकिन अभी तक अस्थाई रैनबसेरे नहीं बने हैं, इससे उनकी रातें खुले आसमान के नीचे बीत रही हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.