अलीगढ़ के विकास भवन व कलक्ट्रेट एक साथ होंगे आईएसओ प्रमाणित

विकास भवन व कलक्ट्रेट जल्द ही आईएसओ प्रमाणित होंगे। इसके लिए तैयारी शुरू हो चुकी है। दोनों कार्यालयों के लिए एक ही निजी कंपनी को जिम्मेदारी मिली है। ऐसे में इस कंपनी ने रंगाई-पुताई का काम शुरू कर दिया है।

Sandeep Kumar SaxenaPublish:Thu, 02 Dec 2021 10:45 AM (IST) Updated:Thu, 02 Dec 2021 10:45 AM (IST)
अलीगढ़ के विकास भवन व कलक्ट्रेट एक साथ होंगे आईएसओ प्रमाणित
अलीगढ़ के विकास भवन व कलक्ट्रेट एक साथ होंगे आईएसओ प्रमाणित

अलीगढ़, जागरण संवाददाता। विकास भवन व कलक्ट्रेट जल्द ही आईएसओ प्रमाणित होंगे। इसके लिए तैयारी शुरू हो चुकी है। दोनों कार्यालयों के लिए एक ही निजी कंपनी को जिम्मेदारी मिली है। ऐसे में इस कंपनी ने रंगाई-पुताई का काम शुरू कर दिया है। साफ-सफाई को बनाए रखने के लिए विशेष इंतजाम हो रहे हैं। वहीं, शौचालयों को आधुनिक बनाया जा रहा है। दीवारों पर महापुरुषों की पेटिंग बनाई जा रही हैं। दोनों कार्यालयों में एक हेल्पडेस्क बनाई जा रही है। इन पर फरियादियों की सहायता के लिए लोगों को बैठाया जाएगा ।

ऐसे हो रही है तैयारी

आइएसओ गुणवत्ता व मानकों को लेकर सर्वे करता है। जिले में अब तक सभी तहसीलें आइएसओ प्रमाणित हो चुकी हैं। सबसे पहले जिले में गभाना व कोल तहसील आइएसओ प्रमाणित हुई थीं। इसके बाद अन्य तहसीलों को यह दर्जा मिला। अब पिछले दिनों कलक्ट्रेट आईएसओ प्रमाणित करने की कार्य योजना बनी थी। इसके लिए काम शुरू हो चुका है। कार्यालयों में साफ.सफाई के साथ ही महापुरुषों की पेंटिंग बनाई जा रही हैं। परिसर को भी स्वच्छ बनाया जा रहा है। वहीं, अब कलक्ट्रेट के साथ ही विकास भवन को भी आईएसओ प्रमाणित किया जाएगा। इसको लेकर दोनों विभागों के अफसर इसको लेकर बैठक कर चुके हैं। अगले महीने तक इस पर काम शुरू हो जाएगा। एक निजी कंपनी को काम करने की जिम्मेदारी दी जा रही है।

टीम से मांगी रिपोर्ट

आइएसओ की जिम्मेदारी संभाल रही कंपनी के प्रतिनिधि भी आए। सीडीओ ने बताया कि विकास भवन को आइएसओ प्रमाणित करने की तैयारी हो रही है। टीम निरीक्षण कर चुकी है। वह अब टीम विस्तृत रिपोर्ट भेजेगी। इसमें जो कमियां पाई जाएंगीए उनको दूर किया जाएगा। इसके बाद विकास भवन की बिल्डिंग व कार्यालय खरे उतरेंगे तो प्रमाण पत्र दिया जाएगा। इससे अंतराष्ट्रीय स्तर पर भी अलीगढ़ कलक्ट्रेट की पहचान होगी। वहीं, कलक्ट्रेट में पहले से ही काम चल रहा है। यहां पर दीवारों पर पेंटिंग समेत अन्य बनाए जा रहे हैं।