अलीगढ़ पुलिस कर रही लोगों को सावधान, बढ़ रहे साइबर अपराध

अपनों की मदद जरुर करें लेकिन थोड़ी सावधानी भी जरुरी है। कहीं कोई शातिर मदद के नाम पर ठग न लें। जिले भर में साइबर ठगी के ऐसे तमाम मामले अब बढ़ने लगे हैं। ऐसे में पुलिस ने लाेगों को इस ठगी से बचाने को जागरुकता अभियान छेड़ दिया है।

Anil KushwahaSat, 04 Dec 2021 01:24 PM (IST)
साइबर क्राइम से बचने के लिए अलीगढ़ पुलिस लोगों को जागरूक कर रही है।

अलीगढ़, जागरण संवाददाता। अपनों की मदद जरुर करें, लेकिन थोड़ी सावधानी भी जरुरी है। कहीं कोई शातिर मदद के नाम पर ठग न लें। जिले भर में साइबर ठगी के ऐसे तमाम मामले अब बढ़ने लगे हैं। ऐसे में पुलिस ने लाेगों को इस ठगी से बचाने को जागरुकता अभियान छेड़ दिया है। साइबर सेल लोगों को इंटरनेट मीडिया समेत विभिन्न माध्यमों से जागरूक कर रही है। इसके लिए एक एडवाइजरी भी जारी की गई है। अधिकांश लोग सिर्फ इसलिए साइबर शातिरों का शिकार बनते हैं क्योंकि उन्हें इंटरनेट व साइबर क्राइम से जुड़ी जानकारी नहीं होती है और इसके प्रति सतर्क भी नहीं होते हैं।

जागरुकता की कमी

पुलिस इंटरनेट मीडिया पर होने वाली साइबर ठगी और उसके साइड इफेक्ट, इंटरनेट से जुड़ी सेवाओं का उपयोग आदि की जानकारी देते हुए अपराध से बचने के लिए जागरूक कर रही है। इसके लिए पुलिस इंटरनेट मीडिया के विभिन्न प्लेटफार्म का उपयोग करने के साथ ही शहर व देहात के थानों व सार्वजनिक स्थलों पर होर्डिग बोर्ड, साइन बोर्ड लगाकर व पंफ्लेट्स बांटने का काम कर रही है।

पुलिस के सुझाव 

क्या बरतें सावधनियां -

-अपना एटीएम कार्ड नंबर व उसका सीवीवी नंबर किसी को न बताएं - एटीएम मशीन का उपयोग करते समय किसी की मदद न लें और ही किसी की मदद स्वीकार करें - मोबाइल फोन पर आने वाले ओटीपी नंबर को किसी से शेयर न करें - कंप्यूटर व मोबाइल पर आने वाले अनचाहे लिंक को क्लिक न करें - आनलाइन खरीद व बिक्री के समय बिना किसी जान-पहचान रकम का लेन-देन न करें - किसी भी अपरिचित से इंटरनेट मीडिया के प्लेटफार्म पर दोस्ती न करें - ओएलएक्स पर किसी भी चीज को खरीदने या बेचते समय एडवांस पेमेंट न करें - लाटरी व इनाम से जुड़े किसी भी ई-मेल काे रिप्लाई न करें - किसी भी अपरचित के कहने पर आनलाइन ट्रांजेक्शन न करें - फोन पे, गूगल पे, पेटीएम, आनलाइन गेटवे, रिक्वेस्ट मनी पेमेंट को कभी भी स्वीकार न करें - किसी के कहने पर फोन में कोई एप या एप्लीकेशन डाउनलोड न करें - अपने एटीएम, ई-मेल, इंटरनेट मीडिया से जुड़े अकाउंट का पासवर्ड किसी से शेयर न करें - साइबर कैफे में इंटरनेट बैकिंग का प्रयोग न करें

यहां करें शिकायत

अगर आप किसी तरह से साइबर ठगी शिकार होते हैं तो मदद के लिए आरबीआइ की आफिशियल वेबसाइट पर आनलाइन शिकायत या भारत सरकार की साइबर क्राइम की अधिकारिक वेबसाइट में भी शिकायत कर सकते हैं। अपने नजदीकी थाने या साइबर सेल से संपर्क कर भी मदद ले सकते हैं।

इनका कहना है

साइबर ठगी से बचाव को पुलिस लगातार लोगों के बीच जागरुकता अभियान चला रही है। जागरुकता से ही ऐसी ठगी की घटनाएं कम हो सकती हैं। साइबर सेल ऐसे शातिरों का नेटवर्क को खंगाल रही है। कई साइबर ठगों को पकड़कर जेल भी भेज चुकी है।

- कलानिधि नैथानी, एसएसपी

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.