Aligarh Panchayat Chunav 2021: किसका सितारा होगा बुलंद, किसके सिर सजेगा ताज

जिला पंचायत का चुनाव इस बार काफी रोचक हो गया है।

जिला पंचायत का चुनाव इस बार काफी रोचक हो गया है। भाजपा ने जिस प्रकार से कार्यकर्ताओं को तरजीह दिया है उससे जमीनी कार्यकर्ताओं में उत्साह है। मगर वरिष्ठ नेताओं के मन में कसक भी लाजिमी है। क्योंकि सारी तैयारियां धरी रह गई।

Sandeep Kumar SaxenaSun, 18 Apr 2021 01:03 PM (IST)

अलीगढ़, जेएनएन। भाजपा ने जिला पंचायत चुनाव में प्रत्याशियों की सूची जारी करके सभी को चौका दिया है। इसमें अध्यक्ष पद का कौन दावेदार होगा यह चर्चा का विषय बना हुआ है? शनिवार को नामांकन के समय भी हर किसी के जेहन में एक ही सवाल था कि 45 प्रत्याशियों में अध्यक्ष पद का दावेदार कौन है? हर कोई कह रहा था कि इनमें कोई ऐसा चेहरा उभरता हुआ नजर नहीं आ रहा है, जो मजबूती से दावेदारी कर सके। हालांकि, शाम को ठा. श्यौराज सिंह की पत्नी विजय सिंह और राजेश भारद्वाज की पुत्रवधू खुशबू भारद्वाज के नाम की घोषणा होने के बाद कयास के बादल थोड़े छंटे हैं। लोगों में चर्चा होने लगी कि इनमें से अध्यक्ष पर के दावेदार हो सकते हैं। मगर, भाजपा जिस तरह से रणनीति तय कर रही है, उससे पूरी तरह से यह नहीं कहा जा सकता है कि कौन अध्यक्ष पद का दावेदार होगा। बहराल, अभी सभी प्रत्याशियों की प्रमुखता है कि वह चुनाव जीतें। 
अन्‍य दलों पर भी निगाह जरूरी
जिला पंचायत का चुनाव इस बार काफी रोचक हो गया है। भाजपा ने जिस प्रकार से कार्यकर्ताओं को तरजीह दिया है, उससे जमीनी कार्यकर्ताओं में उत्साह है। मगर, वरिष्ठ नेताओं के मन में कसक भी लाजिमी है। क्योंकि सारी तैयारियां धरी रह गई। बहरहाल, अब एक ही सवाल उठ रहा है कि अध्यक्ष का दावेदार कौन होगा? ऐसे में चर्चा उठने लगी है कि पार्टी संगठन से जुड़े कार्यकर्ता के परिवार से ही किसी दमदार प्रत्याशी को अध्यक्ष पद का दावेदार बना सकती है। मगर, सदस्यों को एक साथ रखना भी बहुत आसान नहीं होगा। इसलिए अध्यक्ष पद के दावेदार को लेकर संगठन के दिग्गज नेता भी मंथन में जुट गए हैं। वहीं, पाटी को अन्य दलों पर भी निगाह रखनी होगी। 
बागी तेवर अपनाने शुरू 
भाजपा में टिकट न मिलने से कुछ कार्यकर्ता बागी तेवर अपनाने लगे हैं। चर्चा है कि उन्होंने पर्चा खरीद लिया है। वह रविवार को नामांकन करेंगे। फिलहाल अभी दो दावेदारों के नाम सामने आ रहे हैं। डा. पुष्पेंद्र लोधी का इंटरनेट पर फोटो सहित संदेश वायरल हो रहा है, उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता की उपेक्षा हुई है, इसलिए वह उसे बर्दास्त नहीं करेंगे, वह चुनाव में निर्दलीय नामांकन करें। डा. पुष्पेंद्र वार्ड नंबर आठ से चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे थे। यहां से पार्टी ने खुशबू भारद्वाज को प्रत्याशी बनाया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.