20 गांव से गुजरेगा अलीगढ़-हरदुआगंज रेलवे फ्लाईओवर, होगा ये खास फायदा

22 किमी लंबे इस फ्लाईओवर के निर्माण के लिए कुल 20 गांव से 114 हेक्टेअर जमीन का अधिग्रहण होगा। यह जिले का सबसे लंबा फ्लाइओवर होगा। इसके निर्माण पर 1200 करोड़ से अधिक की धनराशि खर्च होगी। आगामी पांच साल में इसके निर्माण का लक्ष्य तय किया गया है।

Sandeep Kumar SaxenaSun, 05 Dec 2021 07:20 AM (IST)
अलीगढ़ जंक्शन स्टेशन पर एक ब्रांच रेल लाइन बरेली-अलीगढ़ समाप्त होती है।

अलीगढ़, सुरजीत पुंढीर। अलीगढ़ के दाऊद खां से हरदुआगंज तक प्रस्तावित रेलवे फ्लाइओवर के लिए जल्द ही भूमि अधिग्रहण की कार्रवाई जल्द शुरू हो जाएगी। इसके लिए रेलवे की ओर से जिला प्रशासन को पत्र लिखा गया है। 22 किमी लंबे इस फ्लाईओवर के निर्माण के लिए कुल 20 गांव से 114 हेक्टेअर जमीन का अधिग्रहण होगा। यह जिले का सबसे लंबा फ्लाइओवर होगा। इसके निर्माण पर 1200 करोड़ से अधिक की धनराशि खर्च होगी। आगामी पांच साल में इसके निर्माण का लक्ष्य तय किया गया है।

रेलवे पुल बनाने का निर्णय

अलीगढ़ जंक्शन स्टेशन पर एक ब्रांच रेल लाइन बरेली-अलीगढ़ समाप्त होती है। हावड़ा की ओर से आने वाली और हरदुआगंज-बरेली जाने वाली ट्रेनें हावड़ा-नई दिल्ली मुख्य मार्ग से गुजरती हैं। ऐसे में जंक्शन का रूट काफी व्यस्त हो जाता है। कई बार भारी यातायात के कारण हावड़ा की ओर से आने वाली और हरदुआगंज-बरेली जाने वाली लोडेड माल गाडिय़ों को काफी देर तक जंक्शन पर खड़ा रहना पड़ता है। इससे सामान्य ट्रेनों का परिचालन भी प्रभावित होता है। ऐसे में रेलवे ने अलीगढ़ दाऊद खां से हरदुआगंज तक रेलवे फ्लाइओवर बनाने का फैसला लिया है। इससे ट्रेन संचालन में देरी और जंक्शन पर लंबे ठहराव से बचा जा सकेगा।

भूमि अधिग्रहण की तैयारी

इस फ्लाइओवर के लिए 2019 में सर्वे किया गया था। इसके लिए अब भूमि अधिग्रहण प्रक्रिया शुरू होनी है। ब्रिज एवं रूफ कंपनी को निर्माण की जिम्मेदारी है। इस कंपनी की ओर से डीएम अलीगढ़ को भूमि अधिग्र्रहण के लिए पत्र लिखा गया है। कुल 20 गांव का भूमि ली जानी है। इसमें 18 गांव कोल तहसील व दो गांव गभाना तहसील क्षेत्र के शामिल हैं।

इन गांव में होगा भूमि अधिग्रहण

कोल तहसील क्षेत्र: दाऊद खां, पडिय़ावली, नगला पानखानी, भदेसी माफी, रहमतपुर गड़मई, कमालपुर, अली नगर, सिंधौली, बरौला जाफराबाद, इलियासपुर महरावल, महरावल, चुआवली, बरई सुभानगढ़ी, सिया खास, रठगांव, इमलौठ, छेरत सुढियाल, खेरूपुरा।

गभाना तहसील क्षेत्र: जमालपुर सिया, रफीपुर सिया।

भूमि अधिग्र्रहण प्रस्ताव पर नजर

सबसे अधिक 22 हेक्टेयर जमीन छेरत सुढिय़ाल, 13 हेक्टेअर महरावल, 12 हेक्टेअर जमालपुर सिया से ली जाएगी। वहीं, सबसे कम जमीन का अधिग्रहण नगला पानखानी व अलीनगर से होगा।

कोलकाता की ब्रिज एंड रूफ कंपनी को अलीगढ़-बरेली फ्लाइओवर के सर्वे, डिजायन एवं निर्माण का जिम्मा सौंपा गया है। रेलवे ने इसके लिए बजट में धन भी जारी कर दिया है। इसके निर्माण से इस रूट पर यात्री ट्रेनों में बढ़ोत्तरी होने के साथ ही मालगाडिय़ों की संख्या में वृद्धि होगी।

- डा. शिवम शर्मा, सीपीआरओ प्रयागराज, उत्तर-मध्य रेलवे

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.