तीन और अवैध निर्माणों को अलीगढ़ विकास प्राधिकरण ने किया सील

चार दिन में कुल 24 अवैध निर्माणों के खिलाफ की गई कार्रवाई।

JagranSat, 04 Dec 2021 07:15 PM (IST)
तीन और अवैध निर्माणों को अलीगढ़ विकास प्राधिकरण ने किया सील

जागरण संवाददाता, अलीगढ़ : अवैध निर्माण के खिलाफ अलीगढ़ विकास प्राधिकरण (एडीए) की कार्रवाई जारी है। शनिवार को कोतवाली क्षेत्र में तीन अवैध निर्माणों को सील कर दिया गया है। पिछले चार दिन में कुल 24 निर्माण सील कर दिए गए हैं। सबसे अधिक आठ निर्माण क्वार्सी थाना क्षेत्र में सील हुए थे।

एडीए के अधिशासी अभियंता मनोज कुमार सिंह ने बताया कि अभियान के चौथे दिन सबसे पहले कोतवाली क्षेत्र में असलम द्वारा शाहपुर रोड मथुरा बाईपास पर 400 वर्ग गज क्षेत्र में बने व्यवसायिक निर्माण को सील किया गया। भवन स्वामी ने बिना नक्शे ही इसका निर्माण किया था। इसके बाद टीम मखदूम नगर सैनी बिल्डिग मैटेरियल के सामने पहुंची। यहां पर नईम अहमद द्वारा हड्डी गोदाम रोड पर 300 वर्ग मीटर क्षेत्र में बिना मानचित्र स्वीकृत कराए भूतल पर कराए गए व्यवसायिक निर्माण को सील किया गया। सबसे आखिरी में टीम मोहम्मद शकील द्वारा पीली मस्जिद के सामने कमेला रोड मखदूम नगर क्षेत्र में 800 वर्ग गज में बिना नक्शा पास कराए किए गए व्यावसायिक निर्माण को सील किया गया। इस मौके पर कोतवाली पुलिस के अलावा सहायक अभियंता केदार राम वर्मा, गंगेश कुमार सिंह, मनोज कुमार शर्मा, पीयूष त्यागी समेत अन्य मौजूद रहे।

एडीए हर बार सीलिंग की कार्रवाई करता है। कुछ समय बाद यह सील खुल जाती है और पूरा मामला रफा-दफा हो जाता है। यही वजह है कि लोगों ने विकास प्राधिकरण की कार्रवाई को लेकर बिल्कुल भी खौफ नहीं है। शहर में अगर कायदे से चिह्नांकन किया जाए तो हजारों की संख्या में अवैध निर्माण मिल जाएंगे। कार्रवाई गिने-चुने निर्माणों पर ही होती है। विकास प्राधिकरण के अफसर जब कार्रवाई करते हैं, तो खूब हो-हल्ला मचाते हैं। सील कब खुल गई, इसका पता भी नहीं चलता है। सील खुलने की वजह क्या रही, यह जानकारी भी नहीं दी जाती है। इसलिए प्राधिकरण के अफसरों व अभियंताओं पर सवाल भी उठते रहते हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.