top menutop menutop menu

अलीगढ़ के अकील बने हरियाणा के डीजीपी क्राइम,परिवार में खुशी की लहर

अलीगढ़ [जेएनएन] : उत्‍तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ के कस्‍बा हरदुआगंज के मूल निवासी हरियाणा कैडर के 1989 बैच के आइपीएस अफसर मोहम्मद अकील हरियाणा के डीजीपी क्राइम बन गए हैं।  उन्हें डीजीपी क्राइम के साथ राज्य अपराध रिकार्ड ब्यूरो मधूबन के निदेशक की अतिरिक्त जिम्मेदारी दी गई है।डीजीपी (क्राइम)बनने पर उनके परिवार सहित पूरे कस्बा में खुशी की लहर है।

अकील के भाई करते हैं खेतीवाड़ी 
हरदुआगंज के संपन्न परिवार में जन्मे अकील के दो बड़े भाई कस्बा में रहकर खेतीबाड़ी करते हैं। छोटे भाई मोहम्मद इसराइल एएमयू में प्रोफेसर हैं। बड़े भाई मोहम्मद आबाद ने उनकी कामयाबी के सफर को दैनिक जागरण के साथ साझा किया। मोहल्ला गुडिय़ाई में रहने वाले मोहम्मद जमीन के चार बेटों व एक बेटी में मोहम्मद अकील चौथे नंबर के हैं। इनकी प्रारंभिक शिक्षा कस्बा के सरकारी स्कूल में हुई। 1989 में पहली ही बार में इनका आइपीएस में चयन हो गया। उन्होंने एक्सटेंशन लेकर आइएएस बनने की तैयारी शुरू कर दी। परीक्षा वाले दिन सड़क दुर्घटना होने से परीक्षा नहीं दे सके थे। हरियाणा के कुरुक्षेत्र के एसएचओ, जमुनानगर जगधारी में एएसपी, रोहतक में एडिश्नल एसपी, फरीदाबाद में एसएसपी से लेकर एडीजी कानून व्यवस्था पद पर रहते हुए उन्होंने सोनीपत के जाट आंदोलन को काबू पाने से लेकर बाबा रामपाल, डेरा स'चा सौदा प्रमुख रामरहीम को जेल भेजने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उन्हें डीजीपी क्राइम के साथ राज्य अपराध रिकार्ड ब्यूरो मधूबन के निदेशक की अतिरिक्त जिम्मेदारी दी गई है।

उपलब्धि
- संपन्न परिवार में जन्मे अकील का खेतीबाड़ी से रहा पुराना नाता
- वर्ष 1989 में पहली ही बार में हो गया था भारतीय पुलिस सेवा में चयन

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.