अजय सर्राफ ने श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए दिए 11.21 लाख रुपये दान, बोले सब उन्‍हीं की कृपा Aligarh news

श्रीराम मदिर निर्माण के लिए 11.21 लाख रुपये का दान देते आरएसएस महानगर संघचालक अजय सर्राफ परिवार के साथ।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के महानगर संघचालक अजय सर्राफ ने परिवार सहित मंदिर निर्माण के लिए 11.21 लाख रुपये दान दिए हैं। यह जिले में अबतक की सबसे बड़ी राशि मानी जा रही है। अजय सर्राफ का कहना है कि उन्हाेंने मां की प्रेरणा से यह राशि समर्पित की है।

Publish Date:Tue, 12 Jan 2021 06:16 PM (IST) Author: Anil Kushwaha

अलीगढ़, जेएनएन : अयोध्या में भव्य श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए समाजसेवियों की अथाह श्रद्धा उमड़ रही है। प्रभु श्रीराम के मंदिर के लिए परिवार का प्रत्येक सदस्य कुछ ना कुछ समर्पित कर रहा है, जिससे मंदिर निर्माण जैसे महायज्ञ में सभी की आहुति लग सके। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के महानगर संघचालक अजय सर्राफ ने परिवार सहित मंदिर निर्माण के लिए 11.21 लाख रुपये दान दिए हैं। यह जिले में अबतक की सबसे बड़ी राशि मानी जा रही है। अजय सर्राफ का कहना है कि उन्हाेंने मां की प्रेरणा से यह राशि समर्पित की है। हमारा उद्देश्य है कि अधिक से अधिक राशि अलीगढ़ से मंदिर निर्माण के लिए पहुंचे।

 

बचपन से ही संघ के स्‍वयंसेवक हैं

मैरिस रोड निवासी अजय सर्राफ बाल्यकाल से संघ के स्वयंसेवक हैं। वर्तमान में वह आरएसएस में महानगर संघचालक के पद पर हैं। श्रीराम मंदिर आंदोलन के समय वह और उनका पूरा परिवार पूरे उत्साह के साथ लगा हुआ है। अजय ने बताया कि इस अवधि में तमाम उतार-चढ़ाव देखें, मगर प्रभु श्रीराम की ऐसी कृपा रही कि सब पार होते चले गए। हर मुश्किल समय में संघ संबल बनकर नजर आया। इसलिए प्रभु श्रीराम के प्रति पूरे परिवार की अगाध आस्था है। अभी हाल में विश्व हिंदू परिषद के पूर्व अंतरराष्ट्रीय महामंत्री दिनेश घर आएं। हम सभी ने पांच लाख रुपये का निर्णय लिया था। मगर, दिनेशजी ने 11 लाख का आग्रह किया।

मां के आदेश को टाल नहीं सकता

इसपर माताजी मुन्नी देवी ने प्रेरित किया। कहा, प्रभु श्रीराम का ही तो सबकुछ है। दिनेशजी के आग्रह को हमें स्वीकार करना चाहिए। मुन्नी देवी ने बड़े पुत्र अजय सर्राफ, वियज और सबसे छोटे पुत्र प्रशांत को निर्देश दिया कि 11 लाख रुपये की राशि ही मंदिर निर्माण के लिए देनी हैं। तीनों पुत्र मां के आदेश को मान गए और उन्होंने 1121121 रुपये मंदिर निर्माण के लिए दान दिए। अजय सर्राफ ने कहा कि मां के आदेश को मेरे भाई और परिवार के सदस्य टाल नहीं सकते। खास बात है कि मुन्नी देवी की पुत्रवधू बबीता, शिखा और सारिका ने भी सहयोग किया। सभी ने कहा कि प्रभु श्रीराम के मंदिर में हम सभी का सहयोग हो इससे अच्छा कार्य और क्या हो सकता है। विभाग प्रचार जितेंद्र ने कहा कि इससे सभी को प्रेरणा मिलेगी। हमारी कोशिश है कि ब्रज प्रांत में अलीगढ़ विभाग नंबर एक पर हो। उन्होंने अजय सर्राफ और उनके पूरे परिवार को बधाई दी।

जन-जन को जगाएंगे

महानगर व्यवस्था प्रमुख सुशील ने कहा कि अजय सर्राफ की प्रेरणा से हम जन-जन को जगाएंगे। 15 जनवरी से निधि संग्रह अभियान में महानगर की कोई ऐसी बस्ती नहीं बचेगी, जहां हम सभी पहुंचेंगे नहीं। प्रत्येक व्यक्ति से संपर्क करें। प्रभु श्रीराम के मंदिर के लिए उनसे आग्रह करेंगे। सुशील ने कहा कि फुटपाथ पर दुकान लगाने वाले, ढकेल लगाने वाले, खोखे वाले, झुग्गी-झोपड़ी में रहने वाले सभी तक संपर्क करेंगे। क्योेंकि श्रीराम मंदिर जन-जन का है। सभी के सहयोग से यह बन रहा है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.