Violation of CoronaVirus Protocol: कोविड नियमों की अनदेखी, रोडवेज बसों में जमकर लापरवाही

बसों में अधिक यात्री सवार होने से शारीरिक दूरी का पालन नहीं हो पा रहा है। प्रतीकात्मक फोटो

Violation of CoronaVirus Protocol लाकडाउन की आशंका के चलते श्रमिकों ने अपने घर लौटना शुरू कर दिया है। आइएसबीटी पर पूर्वांचल के सर्वाधिक यात्री। बसों में अधिक यात्री सवार होने से शारीरिक दूरी का पालन नहीं हो पा रहा है। अधिकतर यात्री बिना मास्क लगाए पहुंच रहे हैं।

Tanu GuptaFri, 23 Apr 2021 05:10 PM (IST)

आगरा, जागरण संवाददाता। दिल्ली जाने वाली अतिरिक्त बसें भले ही घटा दी गई हैं, लेकिन आइएसबीटी पहुंचने वाले यात्रियों की भीड़ नहीं घट रही है। इसमें सर्वाधिक दिल्ली से लौटने वाली बसों में आ रहे हैं, जो पूर्वांचल जाने की बसों को तलाशते रहते हैं। बसों की कमी के कारण यात्रियों को मुश्किल होती है। बसों में अधिक यात्री सवार होने से शारीरिक दूरी का पालन नहीं हो पा रहा है। अधिकतर यात्री बिना मास्क लगाए पहुंच रहे हैं।

लाकडाउन की आशंका के चलते श्रमिकों ने अपने घर लौटना शुरू कर दिया है। गत सप्ताह से आइएसबीटी पर गोरखपुर, बनारस, इलाहाबाद, प्रतापगढ़, महोबा, सुल्तानपुर आदि जिलों की सर्वाधिक सवारियां पहुंच रही हैं। शुक्रवार को दोपहर एक बजे गोरखपुर की बस का इंतजार कर रहे, चरण सिंह ने बताया कि लाकडाउन लगा तो मुश्किल होगी, इसलिए घर जा रहे हैं। एमजी रोड पर ई-रिक्शा चलाते थे। लंबे समय से इसे प्रतिबंधित कर दिया गया है। दूसरे रूट पर ठेकेदार मुश्किल करते हैं। आय भी घटी है। पूरे परिवार ने मास्क, या साफी का प्रयोग नहीं किया था। संक्रमण से भय नहीं लगता पूछने पर टालने लगे। लकड़ी का काम करने वाले जितेंद्र ने बताया कि कोई काम नहीं मिल रहा है। एक दुकान से जुड़े थे, उन्होंने भी लंबे समय से कुछ नहीं बनवाया है। दुकान स्वामी का कहना है कि संक्रमण के कारण लोग खरीदारी करने कम निकल रहे हैं। ऐसे में घर जाकर कुछ दिनों भाई के साथ खेत में काम करेंगे। उन्होंने बताया कि डेढ़ घंटे से इंतजार के बाद भी इलाहाबाद के लिए बस नहीं मिली है। पूरे परिवार ने मास्क नहीं लगा रखा था, पूछने पर कह दिया जल्दी में चले आए हैं। बसों के इंतजार में एेसे दर्जनों परिवार पूरे दिन आइएसबीटी पर भटकते रहे। आइएसबीटी प्रभारी चंद्रहंस ने बताया कि सवारियों की आवश्यकता अनुसार विभिन्न रूट पर बसें चलाई जा रही हैं। कोविड नियमों का सख्ती से पालन कराया जा रहा है। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.