Destination Wedding: डेस्टिनेसन मैरिज का हब बन रहा ब्रज का ये धाम, जानिए क्या है पैकेज

Destination Wedding दूर-दूर से लोग आराध्य के दर पहुंच करा रहे आयोजन। बड़े होटलों में बढ़ गया डेस्टिनेशन वेडिंग का चलन। वृंदावन से दिल्ली की नजदीकी का लाभ भी देश के दूसरे शहरों से आने वाले लोगों को मिलता है।

Tanu GuptaSat, 27 Nov 2021 05:20 PM (IST)
दूर-दूर से लोग वृंदावन में पहुंच करा रहे आयोजन।

आगरा, विपिन पाराशर। शादी भी और आराध्य का आशीर्वाद भी। ठाकुर बांकेबिहारी के भक्त तो पूरी दुनिया में हैं, लेकिन अब उनकी नगरी वृंदावन में नया ट्रेंड चल पड़ा है। ये ट्रेंड है डेस्टिनेशन मैरिज का। अभी तक ऐसे आयोजन नामचीन हिल स्टेशन और पर्यटन केंद्रों तक ही सीमित थे, लेकिन अब लोग वृंदावन में भी ऐसे आयोजन कर रहे हैं। तीर्थनगरी के रिसोर्ट, होटलों में स्थानीय शादी समारोह से अधिक बुकिंग डेस्टिनेशन मैरिज की हो रही हैं। इसके पीछे धारणा है कि बांकेबिहारी के धाम में नवदंपती के जीवन की शुरुआत शुभ होती है।

वृंदावन में करीब दो दर्जन बड़े होटल हैं। अब इन होटलों में डेस्टिनेशन मैरिज का चलन बढ़ा है। इसके पीछे बड़ा कारण वृंदावन में आकर डेस्टिनेशन वेडिंग करने में लोगों को बड़े शहरों से कम बजट में अच्छा माहौल और ईवेंट मुहैया कराना है। बीते चार वर्षों में ये क्रेज काफी बढ़ा है। इन आयोजनों में शादी के साथ ही बर्थडे और मैरिज एनिवर्सरी शामिल हैं। एक अनुमान के मुताबिक, साल में करीब तीन सौ आयोजन डेस्टिनेशन वेडिंग के ही होते हैं। इन आयोजनों के लिए आगरा और इवेंट कंपनी भी वृंदावन आकर आयोजन करा रही हैं। वृंदावन से दिल्ली की नजदीकी का लाभ भी देश के दूसरे शहरों से आने वाले लोगों को मिलता है। दिल्ली से वृंदावन की कनेक्टिविटी रेलवे के साथ टैक्सी के जरिए भी लोगों को आसान रहता है।

दस लाख से होती है पैकेज की शुरुआत

वृंदावन के रिसार्ट, होटल और गेस्टहाउस में डेस्टिनेशन वेडिंग के अगल-अलग पैकेज तय हैं। इसमें दस लाख से शुरुआत होकर आयोजक की डिमांड पर निर्भर होता है। पंडित से लेकर सजावट तकडेस्टिनेशन वेडिंग में रिसार्ट, होटल और गेस्टहाउस के पैकेज में लोगों के ठहरने, भोजन, शादी की डेकोरेशन, गीत-संगीत, बैंड, स्टेज सजावट, पंडित से लेकर विदाई तक की सभी रस्मों को पूरा किया जाता है।

इन शहरों से हो रही हैं बुकिंग

डेस्टिनेशन वेडिंग के लिए पटना, नेपाल, असम,गुवाहाटी, दिल्ली, कोलकाता, बीकानेर, भीलवाड़ा, सूरत, फ़िरोज़ाबाद, लखनऊ समेत देश के दूसरे बड़े शहरों के लोग इस साल डेस्टिनेशन वेडिंग कर चुके हैं। इसके पीछे बड़ा कारण धर्म नगरी है। लोग आराध्य की शरण में अपने आयोजन करना चाहते हैं। शादी-विवाह के साथ ही उनके दर्शन भी होते हैं।

आध्यात्मिक भाव ने बढ़ाया लोगों का रुझान

वृंदावन एक आध्यात्मिक भूमि है। ठाकुर बांकेबिहारी जी नगरी में शुभ आयोजन करना लोगों को आत्मिक शांति प्रदान करता है। तो बहुत से लोग अपनी नई जिंदगी की शुरुआत करने के लिए वृंदावन को चुन रहे हैं।

अब डेस्टिनेशन वेडिंग का चलन वृंदावन में लगातार बढ़ रहा है।

-महेंद्र प्रताप सिंह, अध्यक्ष: होटल एशोसिएशन, वृंदावन

एक नजर

24 से अधिक बड़े होटल हैं वृंदावन में

300 डेस्टिनेशन वेडिंग हर साल यहां होती हैं।

10 लाख रुपये से शुरू है इन शादियों का पैकेज

 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.