आगरा में सोने-चांदी आभूषण कारीगर की झाड़ियों में मिली गला कटी लाश

सदर के सीओडी पुलिस बूथ के पास झाड़ियों में मिली लाश गला रेता गया था। सोमवार की सुबह घर से निकला था काम पर जाने की कहकर। पहले लोगों को लगा कि कोई शराबी वहां पड़ा होगा। इसके चलते लोगों ने ध्यान नहीं दिया।

Prateek GuptaTue, 15 Jun 2021 09:41 AM (IST)
आगरा में सोने चांदी कारीगर की लाश मिली है।

आगरा, जागरण संवाददाता। सदर में ग्वालियर हाईवे पर सीओडी पुलिस बूथ से कुछ मीटर दूर झाड़ियों में सोमवार की शाम को सोने-चांदी आभूषण के कारीगर की लाश मिली। उसका धारदार हथियार से गला रेता गया था। वह सुबह घर से काम पर जाने की कहकर निकला था। घटना की जानकारी होने पर लोगों की भीड़ जुट गई। पुलिस ने डाग स्क्वाड को मौके पर बुलाया, लेकिन वह कुछ खास मदद नहीं कर सका।

घटना सोमवार की शाम करीब सात बजे की है। सदर के डिफेंस एस्टेट फेस-दो निवासी बबलू सोना-चांदी के आभूषणों के कारीगर थे। उनकी उम्र करीब 50 साल थी। परिवार में पत्नी रजनी के अलावा दो बेटे और दो बेटी हैं। सोमवार की शाम को सीओडी पुलिस बूथ के पास बनी झाड़ियों में लोगों की नजर बबलू के शव पर पड़ी। पहले लोगों को लगा कि कोई शराबी वहां पड़ा होगा। इसके चलते लोगों ने ध्यान नहीं दिया। कई घंटे बाद भी जब झाड़ियों में शरीर में कोई हरकत नहीं हुई तो लोगों को गड़बड़ी की आशंका हुई। वहां जाकर देखा तो कारीबर बबलू की लाश पडी थी। उसका गला कटा हुआ था।

उसकी जेब में रखे मोबाइल की घंटी लगातार बज रही थी। वहां पहुंचे भाजपा नेता प्रेमचंद कुशवाहा ने पुलिस को घटना की सूचना दी। मोबाइल की काल रिसीव किया तो वह कारीगर बबलू के स्वजन का था। जानकारी होने पर स्वजन वहां पहुंच गए। पत्नी रजनी ने पुलिस काे बताया कि पति घर पर सोने-चांदी के आभूषण बनाने का काम मजदूरी पर करते थे। कई महीने से वह डिप्रेशन में चल रहे थे। सोमवार की सुबह दस बजे घर से काम के सिलिसले में घर से निकले थे। देर शाम तक नहीं लौटे तो उनसे मोबाइल पर संपर्क करने का प्रयास किया गया। एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद ने बताया कि स्वजन की तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। विवेचना में पता चल सकेगा कि मामला हत्या का है या खुदकुशी का।

पत्नी की तहरीर से हत्या और खुदकुशी में उलझी गुत्थी

कारीगर की पत्नी की तहरीर के बाद मामला खुदकुशी और हत्या के बीच उलझ गया है। पत्नी रजनी ने पुलिस को हरीर दी है, इसमें पति द्वारा डिप्रेशन के चलते खुद अपने ही हाथों से अपना गला काटने की आशंका जताई है। वहीं मौके पर मौजूद लोगों का कहना था कि कारीगर का गला काफी गहरे तक कटा हुआ था। इतना गहरा जख्म कोई व्यक्ति खुद अपने ही हाथों से गले पर नहीं कर सकता। गला जरा सा कटते ही खुदकुशी करने वाले के हाथ का दबाव कम हाे जाएगा। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.