फिजा बिगाड़ने का प्रयास, संविधान शिल्‍पी डॉ आंबेडकर की प्रतिमा को पहुंचाया नुकसान

आगरा, जेएनएन। चुनाव बीतने के बाद से ही मथुरा की शांत फिजां को पलीता लगाने का प्रयास किया जा रहा है। कोसीकलां में भड़काऊ और धमकी भरे पत्रों का राज अभी खुल नहीं पाया कि जिले के दूसरे छोर पर महावन तहसील के गांव जगदीशपुर में देर रात असामाजिक तत्वों ने संविधान शिल्पी डॉ. भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त कर दिया। सुबह जैसे ही लोगों को पता चला तो बड़ी संख्या में ग्रामीण जुट गए। पुलिस के आला अफसरों ने मौके पर पहुंचकर स्थिति को संभाला। जल्द यहां नई मूर्ति लगाई जाएगी।

तहसील महावन के गांव जगदीशपुर में शुक्रवार की सुबह लोग करीब छह बजे जागे और टहलने के लिए बाहर निकले तो देखा कि कुं. गिरवर सिंह की हवेली के सामने स्थिज आंबेडकर पार्क में लगी बाबा साहब भीमराव आंबेडकर की मूर्ति क्षतिग्रस्त कर दी गई है। उनके एक हाथ की अंगुली तोड़ दी गई तो तो दूसरे हाथ में पकड़ी संविधान की किताब को भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया है। मूर्ति को क्षतिग्रस्त करने की खबर गांव में आग की तरह फैली तो लोगों की भीड़ जुट गई। किसी ने पुलिस को सूचना दे दी। मौके पर एसपी देहात आदित्य शुक्ला, सीओ महावन राकेश कुमार, एसओ महावन अनुराग शर्मा आदि फोर्स के साथ पहुंच गए। प्रधान नेकसी देवी के प्रतिनिधि विनोद कुमार ने बताया कि रात 11 बजे के बाद असामाजिक तत्वों ने बाबा साहब की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त कर दिया है। पुलिस ने प्रतिमा की मरम्मत कराने को आश्वासन देकर मामला शांत कराया। सीओ महावन राकेश कुमार मौके पर पहुंच गए दूसरी मूर्ति लगवाने के लिए लोगों को आश्वासन दिया है। इधर सूचना पर महागठबंधन के प्रत्याशी कुं. नरेंद्र सिंह गांव पहुंच गए। उन्होंने कहा कि बाबा साहब की क्षतिग्रस्त प्रतिमा की मरम्मत नहीं चाहिए, प्रशासन नई मूर्ति लगाए, उन्होंने कहा कि मूर्ति लगाने में विधायक निधि का उपयोग नहीं होना चाहिए। आगाह किया प्रशासन ने उनकी मांग नहीं मानी तो रालोद आंदोलन करेगा। 

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.