दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Humanity: जब अपने कर रहे हैं किनारा, तब सेवा है इनका धर्म, पढ़ें आगरा में कैसे बढ़ रहे मदद के हाथ

आगरा में कोरोना काल में जरूरतमंदों की सेवा में जुटी हैं सामाजिक संस्थाएं। प्रतीकात्मक फोटो

Humanity कोरोना काल में जरूरतमंदों की सेवा में जुटी हैं सामाजिक संस्थाएं। चिकित्सा सेवा खाना दवा आक्सीजन की कर रही हैं व्यवस्था। क्षेत्र बजाजा कमेटी हेल्प आगरा सत्यमेव जयते ट्रस्ट आगरा विकास मंच प्रसादम यस वी कैन एक आगरा नेक जैसी संस्थाएं कर रहीं मदद।

Tanu GuptaSun, 09 May 2021 12:08 PM (IST)

आगरा, जागरण संवाददाता। कोरोना काल में संक्रमण के भय से जब अपने ही मुंह मोड़ रहे हैं और पड़ोसी भी मदद नहीं कर पा रहे हैं, तब शहर की सामाजिक संस्थाओं ने जरूरतमंदों की सेवा को ही अपना धर्म बना लिया है। नाकाफी सरकारी इंतजामों और बदइंतजामियों के बीच जब हर ओर निराशा छाई है, तब शहर की यह संस्थाएं शहरवासियों के लिए वरदान साबित हो रही हैं। क्षेत्र बजाजा कमेटी, हेल्प आगरा, सत्यमेव जयते ट्रस्ट, आगरा विकास मंच, प्रसादम, यस वी कैन, एक आगरा नेक अागरा जैसी संस्थाओं की फेहरिस्त बहुत लंबी है। अपने स्तर पर भी लोग जरूरतमंदों की सहायता को हरसंभव प्रयास कर रहे हैं।

केस एक

दयालबाग के पोइया घाट पर मृतकों के अंतिम संस्कार में लोगों को परेशानी हो रही थी। यहां लकड़ी दोगुने दामों पर बेची जा रही थी। सत्यमेव जयते ट्रस्ट से जुड़े विवेक रायजादा ने जब यहां का हाल देखा तो वो द्रवित हो उठे। उन्होंने यहां अपने मित्रों के सहयोग से लकड़ी की व्यवस्था कराई। अब संस्था यहां सभी व्यवस्थाएं देख रही है।

केस दो 

आगरा विकास मंच को रंगकर्मी अनिल जैन द्वारा सेना से सेवानिवृत्त अधिकारी का वीडियो भेजा गया। इसमें वो गुहार लगा रहे थे कि उनका पूरा परिवार संक्रमित है। पत्नी अस्पताल में भर्ती है और उनको आक्सीजन की आवश्यकता है। घर पर संक्रमित छोटे बच्चों की देखरेख कौन करेगा? मंच ने उनकी काउंसिलिंग कर उन्हें हिम्मत बंधाई।

क्षेत्र बजाजा कमेटी

ताजगंज मोक्षधाम और विद्युत शवदाह गृह की व्यवस्थाएं देखने वाली क्षेत्र बजाजा कमेटी ने कोरोना संक्रमितों के उपचार को नेमिनाथ आयुर्वेदिक मेडिकल कालेज, कुबेरपुर में आइसोलेशन सेंटर शुरू किया है। यहां संक्रमितों का उपचार होम्योपैथी, आयुर्वेद और एलोपैथी से किया जा रहा है। कमेटी कोरोना संक्रमण का शिकार हुए लोगों के लिए शव वाहन सेवा भी संचालित कर रही है।

हेल्प आगरा 

हेल्प आगरा द्वारा कोरोना काल में जरूरतमंदों की निरंतर सहायता की जा रही है। संस्था मरीजों को टेली मेडिसिन सेवा उपलब्ध करा रही है। इसके अलावा संस्था द्वारा कोविड-19 से संबंधित जांच, फार्मेसी व एंबुलेंस सेवा संचालित की जा रही है।

सत्यमेव जयते ट्रस्ट 

सत्यमेव जयते ट्रस्ट ने कोरोना काल में पोइया घाट पर व्यवस्थाओं को दुरुस्त कराया है। यहां संस्था अंतिम संस्कार के लिए लकड़ी व अन्य सामग्री रेट टू रेट पर उपलब्ध करा रही है। यहां सबमर्सिबल सही कराकर पानी की व्यवस्था कराई गई है। कोविड संक्रमण का शिकार हुए असहाय लोगों का अंतिम संस्था करा रही है।

आगरा विकास मंच

आगरा विकास मंच ने जैन दादाबाड़ी, शाहगंज में स्वधर्मी बंधुओं के लिए होम क्वारंटाइन सेंटर शुरू किया है। यहां संक्रमितों के उपचार व भोजन की व्यवस्था की गई है। संस्था हेल्पलाइन के माध्यम से जरूरतमंद बुजुर्गों को घर पर ही चिकित्सा, दवा, भोजन, आक्सीजन की व्यवस्था करा रही है।

प्रसादम

प्रसादम ने 11 अप्रैल को कोरोना संक्रमित जरूरतमंद परिवारों को निश्शुल्क भोजन पहुंचाने की सेवा शुरू की थी। दो लोगों से शुरू हुई संस्था से अब एक दर्जन से अधिक लोग जुड़ गए हैं, जो क्षेत्र के अलग-अलग क्षेत्रों में भोजन पहुंचा रहे हैं। 15 परिवारों से शुरू हुई सेवा 700 परिवारों तक पहुंच गई है।

यस वी कैन

यस वी कैन संस्था द्वारा कोरोना की दूसरी लहर में कोरोना संक्रमितों के घरों तक खाना पहुंचाने का काम किया जा रहा है। संस्था ने पिछले वर्ष भी यह काम किया था और 40 हजार मास्क बांंटे थे।

एक आगरा नेक आगरा

 कालाबाजारी के चलते जब पल्स आक्सीमीटर, थर्मामीटर आदि अत्यधिक महंगे हो गए थे, तब संस्था ने पल्स आक्सीमीटर, थर्मामीटर और छोटा आक्सीजन स्प्रे सिलिंडर जरूरतमंदों को दो हजार रुपये की जमानत राशि पर उपलब्ध कराना शुरू किया। संस्था सही स्थिति में तीनों वस्तुएं लौटाने पर 1500 रुपये वापस कर रही है। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.