मुस्कुराकर देखो तो सारी जिदगी रंगीन है

हिलिओज अपार्टमेंट में रविवार को आचार्य ज्ञानचंद्र महाराज ने दिए प्रवचन आगरा प्रवास के दौरान दिए प्रवचनों पर आधारित पुस्तक ताज का हुआ विमोचन

JagranSun, 28 Nov 2021 07:43 PM (IST)
मुस्कुराकर देखो तो सारी जिदगी रंगीन है

आगरा, जागरण संवाददाता। मुस्कुराकर देखो तो सारी जिदगी रंगीन है, वरना भीगी पलकों से तो आइना भी धुंधला दिखता है। जिदगी दोस्तों से और तरक्की दुश्मनों से नापी जाती है। विकट परिस्थितियों में भी मुस्कुराहट और दिमागी संतुलन रखोगे तो बड़ी से बड़ी विपत्ति से भी पार पा जाआगे। समस्याओं का समाधान हो जाएगा।

हिलिओज अपार्टमेंट, प्रोफेसर कालोनी, दिल्ली गेट में रविवार को आचार्य ज्ञानचंद्र महाराज ने यह प्रवचन दिए। उन्होंने कहा कि कई बार वेटर को खाने के बिल से अधिक टिप दे दी जाती है। इसका कारण उसके बोलने और भोजन परोसने का तरीका है। वैसे ही आदमी को प्रत्येक व्यक्ति के साथ अच्छा व्यवहार करने के साथ मधुर बोलना चाहिए। इससे सब आपके बन जाएंगे। समझदार व्यक्तियों को जीहुजूरी और प्रशंसकों से सावधान रहना चाहिए। खतरा निदकों से अधिक प्रशंसकों से है। आचार्य ने कहा कि सच्चा नेता वही होता है, जिसके पैर जमीन पर हों और हाथ आकाश को छू रहा हो। जमीन से जुड़ने वाला ही महान बनता है।

आचार्य द्वारा चार माह के आगरा प्रवास में दिए गए प्रवचनों पर आधारित पुस्तक 'ताज' का विमोचन केंद्रीय विधि एवं न्याय राज्यमंत्री प्रो. एसपी सिंह बघेल, मेयर नवीन जैन और डा. एमसी गुप्ता ने संयुक्त रूप से किया। पुस्तक का प्रकाशन प्रेमचंद जैन, रवि जैन, अतुल जैन के सौजन्य से हुआ। अंत में प्रसादी हुई। सुशील गुप्ता, प्रद्युम्न चतुर्वेदी, डा. वीके गर्ग, आशीष अग्रवाल, हेमलता जैन, नरेश जैन, प्रशांत जैन, मुकेश जैन, हरिमोहन अग्रवाल, गजेंद्र शर्मा, डा. वीके माहेश्वरी, डा. मणि बहल, आरती मल्होत्रा, संगम सिघल, राहुल चतुर्वेदी, डा. प्रीति अग्रवाल, डा. मोना वर्मा, विनोद गुप्ता आदि मौजूद रहे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.