18 वित्त पोषित संस्थानों में पदों के सृजन की मिली संस्तुति

शिक्षक तृतीय व चतुर्थश्रेणी कर्मचारियों के 220 पदों पर होगी भर्ती कार्य परिषद में प्रस्ताव पारित शासनादेशों का होगा पालन

JagranWed, 01 Dec 2021 09:24 PM (IST)
18 वित्त पोषित संस्थानों में पदों के सृजन की मिली संस्तुति

आगरा, जागरण संवाददाता। डा. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय की आवासीय इकाई में संचालित 18 वित्त पोषित संस्थानों व विभागों में शिक्षकों व शिक्षणेत्तर कर्मचारियों के पदों के सृजन की संस्तुति कार्य परिषद ने कर दी है। यह भी निर्णय लिया गया है कि इन पदों के सृजन मात्र से इन्हें अनिवार्य रूप से भरे जाने या इन पर नियुक्ति किए जाने का अधिकार प्राप्त नहीं होगा।

विश्वविद्यालय के पालीवाल पार्क स्थित बृहस्पति भवन में आयोजित बैठक की अध्यक्षता कार्यकारी कुलपति प्रो. आलोक कुमार राय ने की। बैठक में आवासीय इकाई में चल रहे 18 वित्त पोषित संस्थानों व विभागों में शिक्षकों एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों के पदों के सृजन की संस्तुति की गई। समिति द्वारा 128 शैक्षिक, छह समकक्ष, 36 तृतीयश्रेणी और 50 चतुर्थश्रेणी के पदों के सृजन का प्रस्ताव पारित किया गया। निर्णय लिया गया कि इन 18 संस्थानों में पूर्व में सृजित पद अतिरिक्त पद नहीं माने जाएंगे, बल्कि इस प्रस्ताव में संस्तुत पदों में ही समाहित माने जाएंगे। रिक्त पद संस्थान की वित्तीय सबलता, पाठ्यक्रमों की आवश्यकता एवं उपयोगिता के आधार पर ही भरे जाएंगे। इस संबंध में समय-समय पर शासनादेशों का पालन किया जाएगा। बैठक में परीक्षा समिति की दो बैठकों और वित्त समिति की बैठक के निर्णयों का अनुमोदन भी प्राप्त किया गया। बैठक में कुलसचिव संजीव कुमार सिंह, वित्त अधिकारी एके सिंह, परीक्षा नियंत्रक अजय कृष्ण यादव, प्रो. अजय तनेजा, प्रो. अनिल वर्मा, प्रो. संजय चौधरी, डा. बीडी शुक्ला आदि उपस्थित रहे। आज से शुरू होगा डिग्रियों का वितरण

आगरा, जागरण संवाददाता। डा. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय एक बार फिर लंबित डिग्रियों का निश्शुल्क वितरण कार्यक्रम छलेसर परिसर में शुरू कर रहा है। दो से नौ दिसंबर तक चलने वाले इस कार्यक्रम में सत्र 2017-18 की डिग्रियों व सत्र 2018-19 की शेष डिग्रियों का वितरण किया जाएगा।

विश्वविद्यालय में सात लाख डिग्रियां तैयार हैं। राजभवन के निर्देशों के बाद अक्टूबर में प्रथम चरण में सत्र 2018-19 की डिग्रियों का वितरण किया गया था। आठ दिन में मात्र 70 हजार डिग्रियां ही वितरित हुई थीं। कई कालेज डिग्री लेने आए ही नहीं थे। अब दूसरे चरण में दो दिसंबर को एक से 100 तक कालेज कोड, तीन को 101 से 200 तक, चार को 201 से 300, पांच को 301 से 400, छह को 401 से 500, सात को 501 से 600, आठ को 601 से 800 व नौ दिसंबर को 801 से अंतिम तक के कालेजों को सत्र 2017-18 की डिग्रियां दी जाएंगी। इसी दौरान सत्र 2018-19 की शेष डिग्रियों को भी वितरित किया जाएगा। डिग्री लेने के लिए कालेज के प्राचार्य द्वारा अधिकृत शिक्षक या कर्मचारी अथारिटी लैटर, आधार कार्ड, अन्य पहचान पत्र व घोषणा पत्र लेकर छलेसर कैंपस पहुंचेगा। अधिकृत लैटर को विश्वविद्यालय द्वारा दी गई ई-मेल आइडी पर भी अपलोड करना होगा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.