दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Quarantine Centre: आगरा की जैन दादाबाड़ी में शुरू हुआ क्वारंटाइन सेंटर, रियायती दामों पर है सुविधा

जैन दादाबाड़ी में क्‍वारंटाइन सेंटर शुरू कराते समाज के लोग।

आगरा विकास मंच ने जैन समाज के लोगों के लिए की है शुरुआत। एलोपैथी होम्योपैथी व आयुर्वेदिक पद्धति से किया जाएगा इलाज। दादाबाड़ी में 30 कमरे हैं जिनसे वाशरूम अटैच हैं। यहां संक्रमितों को भोजन चिकित्सा सेवा आक्सीजन की सुविधा मिलेगी। इसका एक हजार रुपये प्रतिदिन शुल्क लिया जाएगा।

Prateek GuptaFri, 07 May 2021 11:51 AM (IST)

आगरा, जागरण संवाददाता। जैन दादाबाड़ी, शाहगंज में स्वधर्मी बंधुओं के लिए होम क्वारंटाइन सेंटर की शुरुआत हो गई है। आगरा विकास मंच द्वारा शुरू किए गए सेंटर में पहले दिन दो संक्रमितों का उपचार किया गया। आॅॅक्सीजन लेवल कम होने पर उन्हें अस्पताल भेज दिया गया। यहां एलोपैथी, होम्योपैथी व आयुर्वेदिक पद्धति से इलाज किया जाएगा।

आगरा विकास मंच के अध्यक्ष राजकुमार जैन, संयोजक सुनील कुमार जैन, सुशील जैन ने भगवान महावीर स्वामी के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर सेंटर का उद्घाटन किया। राजकुमार जैन ने बताया कि जैन परिवारों को यहां पूरी सुविधा दी जाएगी। डा. पुनीत मित्तल के नेतृत्व में क्वारंटाइन सेंटर का संचालन होगा। सुनील कुमार जैन ने बताया कि दादाबाड़ी में 30 कमरे हैं, जिनसे वाशरूम अटैच हैं। यहां संक्रमितों को भोजन, चिकित्सा सेवा, आक्सीजन की सुविधा मिलेगी। इसका एक हजार रुपये प्रतिदिन शुल्क लिया जाएगा। निखिल जैन, विमल जैन, दीपक जैन, महेंद्र जैन, संदेश जैन मौजूद रहे।

अलग से बनाया है कारीडोर

सुशील जैन ने बताया कि कोरोना संक्रमितों और उनके तीमारदारों के लिए दादाबाड़ी में 500 मीटर का कारीडोर अलग से बनाया गया है। इससे मंदिर में आने वाले श्रद्धालु उनके संपर्क में नहीं अाएंगे।

सहायता के लिए शुरू की है हेल्पलाइन

मंच ने शहर में अकेले रह रहे असहाय बुजुर्गों की सेवा को हेल्पलाइन नंबर 6360537520 और 8958592544 जारी किए हैं। हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क कर बुजुर्ग सहायता प्राप्त कर सकते हैं। गुरुवार को दो लोगों का अंतिम संस्कार रामलाल आश्रम, सिकंदरा में कराया गया। बेलनगंज में जरूरतमंद परिवार को एक आक्सीजन सिलिंडर उपलब्ध कराया गया। चार घरों तक भोजन पहुंचाया गया।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.