Covid 19: 9000 करीब पहुंचे आगरा में कोरोना संक्रमित, 90 फीसद से अधिक मरीज हुए ठीक

स्वास्थ्य विभाग ने दोबारा से टार्गेटेड सैंपलिंग शुरू कर दी है।

Covid 19मार्च में पहला कोरोना का केस। ये सभी विदेश से लौटे थे और इनके संपर्क में आने पर स्वजन भी संक्रमित हुए थे। 3 .32 लाख की हो चुकी है कोरोना की जांच। स्वास्थ्य विभाग ने दोबारा से टार्गेटेड सैंपलिंग शुरू कर दी है।

Publish Date:Thu, 26 Nov 2020 09:43 AM (IST) Author: Tanu Gupta

आगरा, जागरण संवाददाता। कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या नौ हजार के करीब पहुंच चुकी है। इसमें से 90 फीसद से अधिक मरीज ठीक हो चुके हैं।

कोरोना का पहला केस मार्च में आया था, मार्च में कोरोना के 12 केस आए। ये सभी विदेश से लौटे थे और इनके संपर्क में आने पर स्वजन भी संक्रमित हुए थे। अप्रैल में दिल्ली जमात से जुडे लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई। मई और जून में कोरोना संक्रमित मरीजों के संपर्क में आने वाले लोग सं​क्रमित होने लगे। सबसे ज्यादा केस सितंबर में आए, एक दिन में 100 से 150 कोरोना के नए केस सामने आने के बाद सक्रिय केस 1000 के करीब पहुंच गए। अक्टूबर में कोरोना के नए केस में कमी आइ। मगर, नवंबर में पहले केस में कमी आइ। अब दोबारा कोरोना के केस तेजी से बढ़ने लगे हैं। अब हर रोज 70 से अधिक कोरोना के केस आ रहे हैं। अभी तक कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 8856 पहुंच गई है। सीएमओ डा आरसी पांडे ने बताया कि कोरोना की रोकथाम के लिए कदम उठाए जा रहे हैं, 90 फीसद से अधिक मरीज ठीक हो चुके हैं। नए केस बढने पर एसएन मेडिकल कालेज में वेंटीलेटर की संख्या बढ़ाई जा रही है।

कोरोना की रोकथाम के लिए टार्गेटेड सैंपलिंग

स्वास्थ्य विभाग ने दोबारा से टार्गेटेड सैंपलिंग शुरू कर दी है। जिला क्षय रोग अधिकारी डा यूबी सिंह के निर्देशन में राम लाल वृद्धाश्रम, नारी निकेतन, इंडस्ट्रियल एरिया, महिला वृद्धाश्रम सहित अन्य जगहों से 1143 सैंपल लिए गए। इसमें से 641 एंटीजन टेस्ट किए गए, सभी की रिपोर्ट निगेटिव है। 502 सैंपल की आरटीपीसीआर की रिपोर्ट अभी आनी है। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.