Agra Smart City Project: स्‍मार्ट सिटी के एक प्रोजेक्ट का चैप्टर क्लोज, अब नहीं बन पाएगा जच्‍चा बच्‍चा केंद्र

आगरा स्‍मार्ट सिटी के अंतर्गत बनना था करीब चार करोड़ से जच्‍चा बच्‍चा केंद्र।

आगरा स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के अंतर्गत प्रस्‍तावित था जच्‍चा बच्‍चा केंद्र। केंद्र से तीन मीटर की दूरी पर है बाराह खंभा स्मारक 3.87 करोड़ रुपये से बन रहा था ये केंद्र। राष्‍ट्रीय स्‍मारक प्राधिकरण ने नहीं दिया अनापत्ति प्रमाण पत्र।

Publish Date:Mon, 26 Oct 2020 04:38 PM (IST) Author: Prateek Gupta

आगरा, अमित दीक्षित। आगरा स्मार्ट सिटी के एक और प्रोजेक्ट की फाइल बंद होने जा रही है। राष्ट्रीय स्मारक प्राधिकरण (एनएमए) ने जच्चा-बच्चा केंद्र, ताजगंज को एनओसी देने से इन्कार कर दिया है। इसके चलते अब केंद्र का निर्माण नहीं हो सकेगा। इससे पूर्व एनएमए ने ताजमहल के पूर्वी और पश्चिमी गेट के पांच सौ पेड़ों पर रंग-बिरंगी रोशनी डालने की अनुमति नहीं दी थी।

शहर के नौ वार्डों को स्मार्ट तरीके से विकसित किया जा रहा है। पांच साल के भीतर एक हजार करोड़ रुपये खर्च होंगे। जिसे देखते हुए जच्चा-बच्चा केंद्र, ताजगंज का जीर्णोद्धार का प्रस्ताव तैयार हुआ। 3.87 करोड़ से निर्माण होना था। आगरा स्मार्ट सिटी प्रशासन ने जर्जर बिल्डिंग को तोड़ दिया। एएसआइ की आपत्ति के बाद काम रुक गया। एनएमए ने कहा है कि जच्चा-बच्चा केंद्र से महज 3.25 मीटर पर बारा खंभा स्मारक है। यह संरक्षित स्मारक है। ऐसे में केंद्र का निर्माण नहीं हो सकता है। न ही एनओसी दी जा सकती है।

ये हैं प्रमुख 19 प्रोजेक्ट और उनकी स्थिति

- कार्य का नाम : डेवलपमेंट ऑफ हेरिटेज वाक। लागत 3.46 करोड़। शुरुआत छह मई 2018।

- सात चौराहों का सुंदरीकरण। लागत 6.97 करोड़। शुरुआत 19 जून 2018।

- ताजमहल के आसपास सुंदरीकरण का कार्य। लागत 3.08 करोड़। शुरुआत 23 अगस्त 2018।

- दरेसी रोड पर विकास कार्य। लागत 97 लाख। शुरुआत 29 सितंबर 2018।

- माइक्रोस्किल डेवलपमेंट सेंटर। लागत दो करोड़। शुरुआत दस मई 2018।

- फतेहाबाद रोड का सुंदरीकरण। लागत 105 करोड़। 29 अगस्त 2018।

- आठ लोकेशन पर पब्लिक टॉयलेट का निर्माण। लागत 3.99 करोड़। शुरुआत दस मई 2018।

- मास्टर सिस्टम इंटीग्रेटर। लागत 282 करोड़। शुरुआत 29 अगस्त 2018।

- स्ट्रीट वेंडिंग जोन का निर्माण। लागत 3.33 करोड़। शुरुआत 22 जून 2018।

- नगर निगम ताजगंज के स्कूल का सुंदरीकरण। लागत 1.24 करोड़। शुरुआत 11 अक्टूबर 2018।

- डिजिटल एजुकेशन ताजगंज इंटर कॉलेज। लागत 61 लाख। शुरुआत 10 मई 2018।

- वूमेन डिस्ट्रेस और हेल्थ सेंटर। लागत 3.40 करोड़। शुरुआत 22 दिसंबर 2018।

- जंक्शन इंप्रूवमेंट, पैन सिटी। लागत 2.22 करोड़। शुरुआत 22 दिसंबर 2018।

- इंप्रूवमेंट ऑफ ताज ईस्स्ट ड्रेन। लागत 26.09 करोड़। शुरुआत 22 दिसंबर 2018।

- रीहेबिलिटेशन ऑफ मेजर रोड। लागत 99.36 करोड़। शुरुआत एक मार्च 2019।

- रीहेबिलिटेशन ऑफ माइनर रोड (सीसी रोड)। लागत 79.83 करोड़। शुरुआत 9 मई 2019।

- रीहेबिलिटेशन ऑफ माइनर रोड (डामर रोड)। लागत 74.62 करोड़। शुरुआत नौ मई 2019।

- सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट। लागत 3.83 करोड़। शुरुआत नौ मई 2019।

- चौबीस घंटे वाटर सप्लाई मीटरिंग स्काडा सिस्टम। लागत 142 करोड़। शुरुआत नौ मई 2019।

- सीवरेज नेटवर्क। लागत सौ करोड़। शुरुआत नौ मई 2019।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.