Advocate Murder Case: अधिवक्ता केपी यश की हत्या के विरोध में वकीलों का दीवानी पर प्रदर्शन

आगरा दीवानी पर शनिवार को प्रदर्शन करते अधिवक्‍ता।
Publish Date:Sat, 31 Oct 2020 03:45 PM (IST) Author: Prateek Gupta

आगरा, जागरण संवाददाता। अधिवक्ता केपी यश की हत्या के विरोध में वकीलों ने शनिवार को दीवानी पर प्रदर्शन किया। सभी बार एसोसिएशन ने शनिवार को न्यायिक कार्य से विरत रहीं। प्रदर्शन करते वकीलों ने अधिवक्ता की हत्या की साजिश से जुड़े सभी पहलुुओं की पुलिस से विस्तृत जांच करने की मांग की है।

जीवनी मंडी के जाटनी का बाग निवासी अधिवक्ता केपी यश 26 अक्टूबर की शाम को लापता हो गए थे। उनका शव इटावा के भरथना मल्हौसी नगर में 27 अक्टूबर को मिला था। शव की शिनाख्त 29 अक्टूबर होने के बाद पुलिस ने हत्याकांड का पर्दाफाश कर दिया। अधिवक्ता की सास शिमला पवार ने ही दस लाख रुपये में जीतू और राहुल को उसकी हत्या की सुपारी दी थी। पुलिस ने सास शिमला और हत्या में शामिल राहुल एवंं अनवर को गिरफ्तार करके शुक्रवार को जेल भेज दिया। वहीं मुख्य आरोपित जीतू ने फीरोजाबाद में किसी पुराने मामले में समर्पण कर दिया था।

वकीलों ने केपी यश के लापता होने पर एसएसपी बबलू कुमार से मिलकर उनकी बरामदगी की मांग की थी। अधिवक्ता के साथ अनहोनी की आशंका जताई थी। प्रदर्शन कर रहे वकीलों का कहना था कि उनकी आशंका सही साबितत हुई। अधिवक्ता की हत्या के पीछे बड़ी साजिश की आशंका है। पुलिस को हत्याकांड से जुड़े सभी पहलुओं की जांच करनी चाहिए।

केपी यश जोंस मिल जमीन की वारिस के मामले में मोरिन जान के केस की पैरवी कर रहे थेे। मोरिन ने भी हत्याकांड के तार जोंस मिल से जुड़े होने का दावा किया है।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.