Janmashtami 2020: योगीराज के जन्म से पूर्व पहरे में जिले की सीमाएं, खाकी की कड़ी चौकसी

Janmashtami 2020: योगीराज के जन्म से पूर्व पहरे में जिले की सीमाएं, खाकी की कड़ी चौकसी

Janmashtami 2020 कोविड-19 महामारी के मद्देनजर श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर्व पर मथुरा सीमा में गैर जिलों से आने वाले श्रद्धालुओं के आगमन पर रोक लगा दी गई है

Publish Date:Wed, 12 Aug 2020 05:29 PM (IST) Author: Tanu Gupta

आगरा, जेएनएन। मथुरा जिले की सीमाओं पर बुधवार को कड़ी चौकसी है। श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर गैर जिलों से आने वाले श्रद्धालुओं के प्रवेश पर रोक लगाने के लिए सभी बॉर्डर सील कर दिए गए हैं। मथुरा-वृंदावन में भी पुलिस की सक्रिय है। 

कान्हा के जन्मोत्सव में शामिल होने के लिए मथुरा और वृंदावन में बड़ी संख्या में लोग गैर जिलों से आते हैं और ब्रज के अन्य तीर्थस्थलों के दर्शन करने के बाद ही लौटते हैं। इस बार कोविड-19 महामारी के मद्देनजर श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर्व पर मथुरा सीमा में गैर जिलों से आने वाले श्रद्धालुओं के आगमन पर रोक लगा दी गई है। इसके लिए मंगलवार को ही राजस्थान के भरतपुर, हरियाणा के होडल, अलीगढ़ के बाजना, नौहझील, राया, हाथरस के बलदेव और आगरा के रैपुराजाट बॉर्डर समेत पुलिस ने 39 स्थानों पर बैरियर लगाए थे। इन बैरियर पर सुबह से ही पुलिस ने चेकिंग शुरू कर दी थी। गैर जिलों से आने वाले वाहनों का इन पर रोका गया। इनमें सवार यात्रियों से गहनता से पूछताछ की गई। श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर्व में शामिल नहीं होने को लेकर के जब पुलिसकर्मी पूरी तरह से संतुष्ट हो गए, उसके बाद ही जिले की सीमा में प्रवेश करने दिया। एसपी देहात श्रीशचंद्र ने बताया कि श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर्व पर मथुरा और वृंदावन के आने वाले यात्रियों की संख्या इस बार नगण्य है। इक्का दुक्का लोग आ रहे हैं तो उनको बॉर्डर से ही वापस कर दिया जा रहा है। वहीं दूसरी तरफ मथुरा और वृंदावन में पुलिस लगातार गश्त कररही है। मठ, मंदिर और आश्रम पुलिस के रडार पर बने हैं। सुरक्षा के लिहाज से पुलिस संवेदनशील इलाकों में भी सक्रिय है। खुफिया तंत्र भी हालात पर नजर रखे हुए है। ये अतिरिक्त एहतियात कोरोना वायरस संक्रमण के चलते बरती जा रही है। इस बार महामारी के कारण किसी भी मंदिर में श्रद्धालु दर्शन लाभ नहीं ले पा रहे हैं।   

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.