Asian Water Bird Census 2021: अंतरराष्‍ट्रीय स्तर पर आगरा मंडल में जलीय पक्षियों की गणना हुई पूरी

जोधपुर झाल में मौजूद जलीय पक्षी। इनकी गणना हो चुकी है।

आईसीयूएन की सहयोगी संस्था वेटलैंड्स इंटरनेशनल ने गणना कार्यक्रम एशियन वाटर बर्ड सेंसेक्स 2021 के अंतर्गत किया। यह गणना कार्यक्रम प्रतिवर्ष होता है जिसमें केवल जलीय पक्षियों की प्रवासी एवं आवासीय प्रजातियां शामिल की जाती हैं। यहां पक्षियों की संख्‍या में वृद्धि दर्ज हुई है।

Publish Date:Fri, 15 Jan 2021 01:09 PM (IST) Author: Prateek Gupta

आगरा, जागरण संवाददाता। वेटलैंड्स इंटरनेशनल द्वारा आगरा मंडल के तीन प्रमुख वेटलैंड्स पर वाटर बर्ड्स की गणना की गई। इन तीन वेटलैंड्स में आगरा की सूर सरोवर बर्ड सेन्चुरी (रामसर साइट), मथुरा की जोधपुर झाल एवं मैनपुरी की समान बर्ड सेन्चुरी (रामसर साइट) शामिल थे। गणना में वेटलैंड्स इंटरनेशनल के साथ बायोडायवर्सिटी रिसर्च एंड डवलपमेंट सोसाइटी (बीआरडीएस), नेशनल चंबल सेन्चुरी प्रोजेक्ट, वन विभाग, डाॅ बी आर अंबेडकर विश्वविद्यालय,आगरा के शोधार्थी व वरिष्ठ प्रोफेसर एवं जगदम्बा डिग्री कॉलेज, आगरा के सहायक प्रोफेसर एवं जीव विज्ञान के विद्यार्थी सम्मलित हुए। आईसीयूएन की सहयोगी संस्था वेटलैंड्स इंटरनेशनल ने गणना कार्यक्रम एशियन वाटर बर्ड सेंसेक्स 2021 के अंतर्गत किया। यह गणना कार्यक्रम प्रतिवर्ष होता है जिसमें केवल जलीय पक्षियों की प्रवासी एवं आवासीय प्रजातियां शामिल की जाती हैं। गणना के समन्वयक वेटलैंड्स इंटरनेशनल के दिल्ली कॉर्डिनेटर ईकोलोजिस्ट टीके राॅय रहे एवं पक्षी विशेषज्ञ डॉ केपी सिंह के निर्देशन में गणना कार्यक्रम सम्पन्न हुआ।

रामसर साइट सूर सरोवर आगरा में गणना

वेटलैंड का स्टेटस: रामसर साइट एवं वन विभाग द्वारा नियंत्रित व संचालित

क्षेत्रफल: 403.09 हेक्टेयर

गणना : दिनांक 9 जनवरी 2021

समय: सुबह 9 से दोपहर 1 बजे तक

टीम : 4 एवं प्रत्येक में 6-8 सदस्य

प्रजातियों की कुल संख्या : 70

प्रवासी- 37 , आवासीय- 33, संकटग्रस्त- 9

पक्षियों की कुल संख्या : 5249

अधिक संख्या के प्रमुख पांंच पक्षी

लिटिल कोर्मोरेन्ट (1266), बार हेडेड गूज ( 679 ), नोर्दन शोवलर ( 562), ग्रेट कोर्मोरेन्ट (503), काॅमन टील (286)

अन्य प्रमुख पक्षी

इंडियन कोर्मोरेन्ट (146), ब्लैक बिग्ड स्टिल्ट (146), पर्पल स्वैम्प हैन (123), वेगटेल (75), ग्रेट व्हाइट पेलिकन (67) , टैमिनिक स्टिंट (65)

जोधपुर झाल मथुरा में गणना

वेटलैंड का स्टेटस: खुला वनक्षेत्र, राज्य सरकार द्वारा संरक्षण हेतु कोई नोटिफिकेशन नहीं

क्षेत्रफल: लगभग 151 हेक्टेयर

गणना : दिनांक 10 जनवरी 2021

समय: सुबह 9 से दोपहर 12 बजे तक

टीम : 2 एवं प्रत्येक में 6-8 सदस्य

प्रजातियों की कुल संख्या : 47

प्रवासी- 27 , आवासीय- 20, संकटग्रस्त- 07

पक्षियों की कुल संख्या : 1179

अधिक संख्या के प्रमुख पांंच पक्षी

बार हेडेड गूज (302), नोर्दन शोवलर (266), काॅमन टील (70), ब्लैक टेल्ड गोडविट (41), रैड वेटल्ड लेपविंग (68), टैमिनिक स्टिंट (32)

अन्य प्रमुख पक्षी

वेगटेल( 27), काम्ब डक ( 18), यूरेशियन बेगौन (16), पाइड एवोसेट (10), पेन्टेड स्टार्क (9) व्हाइट टेल्ड लेपविंग ( 8), काॅमन स्नाइप (4)

रामसर साइट समान बर्ड सेन्चुरी में गणना

वेटलैंड का स्टेटस: रामसर साइट एवं वन विभाग द्वारा नियंत्रित व संचालित

क्षेत्रफल: 1656 हेक्टेयर

गणना : दिनांक 11 जनवरी 2021

समय: सुबह 9 से दोपहर 1 बजे तक

टीम : 2 एवं प्रत्येक में 6-8 सदस्य

प्रजातियों की कुल संख्या : 40

प्रवासी-18 , आवासीय- 22, संकटग्रस्त- 06

पक्षियों की कुल संख्या : 803

अधिक संख्या के प्रमुख पांंच पक्षी

लिटिल कोर्मोरेन्ट (122), ब्लैक हेडेड आईबिश (88), व्हाइट टेल्ड लेपविंग (63), काॅमन टील ( 57), पौंड हैरोन (52)

अन्य प्रमुख पक्षी

सारस क्रेन (31), इंटरमीडिएट इग्रिट (30), पेन्टेड स्टार्क (27), रेड वेटल्ड लेपविंग (26), ब्लैक बिग्ड स्टिल्ट (19), ओपन विल्ड स्टार्क (17)

तीन दिवसीय गणना में यह रहे शामिल

वेटलैंड्स इंटरनेशनल दिल्ली कॉर्डिनेटर ईकोलोजिस्ट टीके राॅय, बायोडायवर्सिटी रिसर्च एंड डवलपमेंट सोसाइटी के अध्यक्ष व पक्षी विशेषज्ञ डॉ. केपी सिंह, आगरा विश्वविद्यालय की वरिष्ठ प्रोफेसर (जंतु विज्ञान) डाॅ अमिता सरकार, डाॅ पुष्पेन्द्र विमल, नितिश परिहार, हिमांशी सागर, शमी सैय्यद, नेहा शर्मा, अनुराग यादव, नवीन चंद्र, सुनीता, शिवेंद्र, मेहरान, आकाश जैन, वीरेन्द्र गुप्ता के साथ नेशनल चंबल सेन्चुरी प्रोजेक्ट वन विभाग के कर्मचारी शामिल रहे।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.