Shri Krishna Janmbhoomi: 24 साल की लड़ाई के बाद खुली थी केशव वाटिका, इस कारण से किया गया था बंद

मथुरा में श्री कृष्ण जन्मभूमि पर बनी केशव वाटिका।
Publish Date:Tue, 29 Sep 2020 02:30 PM (IST) Author: Tanu Gupta

आगरा, नवनीत शर्मा। श्रीकृष्ण जन्मस्थान स्थित केशव वाटिका को खुलवाने के लिए प्रशासन से 24 वर्ष लड़ाई लड़ी गई। वर्ष 1995 में केशव वाटिका में श्रद्धालुओं का प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया गया था। श्रीकृष्ण जन्मस्थान सेवा संस्थान सरकार और प्रशासन से लगातार मांग करता रहा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने फरवरी 2018 में मथुरा आए, तो उन्होंने केशव वाटिका खोलने का वादा किया था। पिछले वर्ष जन्माष्टमी के मौके पर केशव वाटिका श्रद्धालुओं के लिए खोल दी गई। वर्ष 1992 में अयोध्या में विवादित ढांचा ढहाए जाने के बाद विश्व हिंदू परिषद मथुरा में श्रीकृष्ण जन्मभूमि के लिए भी आवाज उठा रहा था। इसे लेकर विहिप के नारे के बाद श्रीकृष्ण जन्मस्थान की सुरक्षा बढ़ा दी गई। वर्ष 1995 में विहिप ने वृंदावन रोड पर बिड़ला मंदिर के निकट विष्णु महायज्ञ आयोजित किया। प्रशासन ने यज्ञ में भीड़ एकत्र होने और अप्रिय घटना होने की आशंका जताई।

श्रीकृष्ण जन्मस्थान परिसर स्थित केशव वाटिका शाही मस्जिद ईदगाह से सटी है। तब यहां की सुरक्षा व्यवस्था देखने तत्कालीन केंद्रीय मंत्री स्व. राजेश पायलट भी आए। सुरक्षा के लिहाज से प्रशासन ने बैरीकेडिंग कर केशव वाटिका में श्रद्धालुओं का प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया। श्रीकृष्ण जन्मस्थान सेवा संस्थान का कहना है कि श्रद्धालु चेकिंग के बाद ही जन्मस्थान में प्रवेश करते हैं। वर्ष 2017 में जब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयाेध्या पहुंचे तो, श्रीकृष्ण जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपालदास के जरिए केशव वाटिका खुलवाने को ज्ञापन दिया गया। सीएम फरवरी 2018 में होली पर जन्मस्थान आए, तो भी वाटिका खुलवाने की मांग हुई। शासन के निर्देश पर अगस्त 2019 में श्रद्धालुओं के लिए वाटिका खुल गई। श्रीकृष्ण जन्मस्थान सेवा संस्थान के सदस्य गोपेश्वरनाथ चतुर्वेदी ने बताया, केशव वाटिका करीब साढ़े तीन एकड़ का बगीचा है। इसमें जन्मस्थान आने वाले श्रद्धालु विश्राम करते हैं।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.