Night Curfew: ताजनगरी में नाइट कर्फ्यू लगा तो दिन में निकलेगी आंबेडकर जयंती पर शोभायात्रा

आगरा में डा. आंबेडकर की जयंती पर 14 अप्रैल को शोभायात्रा निकाली जाती है।

Night Curfew हर संभव परिस्थिति पर विचार कर रही है समारोह समिति। आंबेडकर जयंती में हर झांकी में रहेगी 25 मीटर की दूरी। आगरा में डा. आंबेडकर की जयंती पर 14 अप्रैल को शोभायात्रा निकाली जाती है। इसके साथ ही भीमनगरी का आयोजन होता है।

Tanu GuptaFri, 09 Apr 2021 12:41 PM (IST)

आगरा, जागरण संवाददाता। डा. भीमराव आंबेडकर की जयंती में अब पांच दिन ही बचे हैं। आयोजन समिति शोभायात्रा की तैयारियों में जुटी हुई है। इस वर्ष काेरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए आयोजन का स्वरूप बदला हुआ होगा। कोविड-19 की गाइडलाइन के चलते झांकियों में उचित दूरी बनाई जाएगी तो लोगों की संख्या भी सीमित रहेगी। कुछ ऐसा ही भीमनगरी के मंच पर नजर आएगा। अगर, ताजनगरी में कोरोना वायरस के संक्रमितों के केस बढ़ने पर नाइट कर्फ्यू लगता है तो दिन में शोभायात्रा निकाली जाएगी।

आगरा में डा. आंबेडकर की जयंती पर 14 अप्रैल को शोभायात्रा निकाली जाती है। इसके साथ ही भीमनगरी का आयोजन होता है। इस बार बिजलीघर स्थित चक्कीपाट में भीमनगरी सजाई जा रही है। वहां जगह सीमित होने की वजह से आगरा किला के सामने स्थित रामलीला मैदान में संसद और राष्ट्रपति भवन के आर्किटेक्चर पर आधारित मंच बनाया जा रहा है, जिसका स्ट्रक्चर लगभग तैयार हो चुका है और उसे अंतिम रूप दिया जा रहा है। इस बीच आगरा में कोरोना वायरस के संक्रमितों की बढ़ती संख्या ने समारोह समिति के समक्ष चुनौतियां बढ़ा दी हैं। सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन का पालन करते हुए शोभायात्रा निकालने और भीमनगरी के आयोजन की तैयारी है। पिछले वर्ष कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते लागू लाक डाउन की वजह से दोनों आयोजन स्थगित करने पड़े थे।

14 अप्रैल को निकाली जाने वाली शोभायात्रा में करीब 50 झांकियां, बैंड आदि शामिल होने की उम्मीद है। अब तक समिति से 20 मोहल्लों द्वारा झांकियां निकालने को संपर्क किया गया है। हर झांकी के साथ 20 लोग ही शोभायात्रा में शामिल हो सकेंगे। प्रत्येक झांकी में 25 मीटर की दूरी रखी जाएगी। मास्क के साथ सैनिटाइजेशन व थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था होगी। वहीं, भीमनगरी के मंच पर शाम सात से रात 10 बजे तक कार्यक्रम होंगे। यहां पहले पांच हजार लाेगों के बैठने का इंतजाम किया जा रहा था, लेकिन अब केवल 500 कुर्सियां ही लगाई जाएंगी। वहीं, मंच पर केवल 20 लोगों को रहने की अनुमति होगी। गुरुवार को एडीएम सिटी डा. प्रभाकांत अवस्थी और एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद ने समारोह समिति के साथ बैठक कर कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन का पालन सुनिश्चित कराने पर जोर दिया था।

डा. आंबेडकर जयंती और भीमनगरी समारोह केंद्रीय समिति के अध्यक्ष भरत सिंह पिप्पल ने बताया कि आंबेडकर जयंती पर शाम छह बजे से शोभायात्रा निकाली जाएगी। अगर शहर में नाइट कर्फ्यू लगता है तो दोपहर दो से रात 10 बजे तक शोभायात्रा निकाली जाएगी। नाइट कर्फ्यू से भीमनगरी के मंच पर होने वाले कार्यक्रम प्रभावित नहीं होंगे, क्याेंकि वो शाम को होते हैं। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.