बिरज में हो रही जय-जयकार, नंद घर लाला जायो है..

बिरज में हो रही जय-जयकार, नंद घर लाला जायो है..

श्रीराम पार्क में चल रही भागवत कथा में नंदोत्सव और श्रीराम जन्मोत्सव मनाया गया

JagranSun, 28 Feb 2021 10:00 PM (IST)

आगरा, जागरण संवाददाता। भक्ति भाव में सराबोर श्रद्धालु। फूलों और गुब्बारों से सजा कथा स्थल। उमंग और उत्साह का माहौल। यह नजारा था जयपुर हाउस स्थित श्रीराम पार्क में चल रही श्रीमद् भागवत कथा स्थल का। रविवार को भागवत कथा में नंदोत्सव और श्रीराम जन्मोत्सव मनाया गया। जहां श्रीहरि के जन्म की खुशी में खूब उपहार, खेल-खिलौने लुटाए गए। व्यासपीठ पर बैठे संत अरविद महाराज ने श्रीकृष्ण और श्रीराम के जन्म की कथा सुनाई। जैसे ही बिरज में हो रही जय-जयकार, नंद घर लाला जायो है.. भजन शुरू हुआ, वैसे ही सभी भक्त हाथ ऊपर करके जय श्रीकृष्ण के जयकारे लगाने लगे।

कथावाचक ने रावण की शक्ति और ज्ञान का उदाहरण देते हुए कहा कि दुष्टों की शक्ति हमेशा दुरुपयोग में ही लगती है, जबकि भक्तों की शक्ति श्रीहरि के कीर्तन और अच्छे कर्मों में लगती है। कीर्तन के मार्ग पर चलोगे तो समुद्र मंथन की तरह पहले विष की तरह बाधाएं आएंगी, लेकिन अंत में अमृत अवश्य मिलेगा। गुरु की महिमा का वर्णन करते हुए कहा कि सिर्फ गुरु की तस्वीर पर रोली लगाने से काम नहीं चलेगा। रोली लगा लगाकर गुरु की तस्वीर का रंग बदलने के बजाय अपने जीने का ढंग बदलिए। भागवत कथा में सोमवार को श्रीराधा के जन्म प्रसंग की कथा सुनाई जाएगी। कथा में भाजपा संगठन मंत्री करमवीर सिंह, विधायक पुरुषोत्तम खंडेलवाल, राकेश अग्रवाल, रूपकिशोर अग्रवाल, लक्ष्मण गोयल, सुरेन्द्र भारद्वाज, मुरारीलाल फतेहपुरिया, वीरेन्द्र सिघल, सरजू बंसल आदि उपस्थित रहे। श्रीराम कथा-मानस श्रीराधा में जीवंत होंगी राधा रानी की लीलाएं : किशोरी राधा रानी की संगीतमय लीलाओं का आनंद 16 से 20 मार्च तक श्रद्धालु बरसाना में आयोजित श्रीरामकथा-मानस श्रीराधा में उठा सकेंगे। चिन्मयानंद बापू महाराज कथा वाचन करेंगे। कथा का आयोजन विश्व कल्याण मिशन ट्रस्ट आगरा द्वारा किया जा रहा है। रविवार को वाटर व‌र्क्स स्थित अतिथि वन में कथा का पोस्टर विमोचन किया गया।

पोस्टर विमोचन के दौरान ट्रस्टी मयंक वैद्य ने बताया कि कथा श्री सारा देवी अतिथि भवन बरसाना धाम में होगी। यहां श्रद्धालुओं के ठहरने व भोजन की व्यवस्था ट्रस्ट द्वारा निश्शुल्क की गई है। रजिस्ट्रेशन की अंतिम तिथि पांच मार्च है। मैनेजिग ट्रस्टी मुरारीलाल गोयल ने शहरवासियों को कथा श्रवण के लिए आमंत्रित किया। उन्होंने बताया कि 16 मार्च को सुबह कलश यात्रा निकाली जाएगी। कथा का समय दोपहर दो से शाम 5 बजे तक है। पांच दिवसीय कथा में प्रतिदिन इच्छुक श्रद्धालुओं को बरसाना धाम के दर्शन कराए जाएंगे । इस अवसर पर ट्रस्ट के संरक्षक तीरथ कुशवाह, नंदकिशोर सुगंधी, प्रतीक बंसल, भोलानाथ अग्रवाल, केएम सिघल, हरिओम गोयल, विजय वर्मा आदि उपस्थित रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.