Banke Bihari Temple: बांके बिहारी मंदिर में प्रवेश को लेकर भिड़े गार्ड और श्रद्धालु, उड़ी कोविड गाइड लाइन की धज्जियां

Banke Bihari Temple केंद्रीय मंत्री निरंजन ज्योति के मंदिर पहुंचने पर गार्डों ने रोक दिया था श्रद्धालुओं का बांके बिहारी मंदिर में प्रवेश। श्रद्धालुओं और गार्डों में गाली गलौज के बाद मारपीट हो गई। सेवायतों और दूसरे श्रद्धालुओं ने बीच-बचाव कराया।

Tanu GuptaWed, 23 Jun 2021 05:54 PM (IST)
बांके बिहारी मंदिर में प्रवेश को लेकर झगड़ते गार्ड और भक्त्।

आगरा, जेएनएन। केंद्रीय राज्यमंत्री निरंजन ज्योति बुधवार को ठा. बांकेबिहारी मंदिर में दर्शन के लिए पहुंची थीं। मंत्री की सुरक्षा और सुविधा का ख्याल रखते हुए मंदिर के गार्डों ने श्रद्धालुओं की मंदिर में कुछ देर के लिए एंट्री बंद कर दी। इसी बात को लेकर श्रद्धालुओं और सुरक्षागार्डों में भिड़ंत हो गई। मौके पर मौजूद श्रद्धालु और सेवायतों की मध्यस्थता के बाद मामला टल गया। ठा. बांकेबिहारी मंदिर में बुधवार को भी उम्मीद के मुताबिक भीड़ काफी अधिक थी। भीड़ के बीच आसमान से बरसती आग में जब अपने नंबर का इंतजार करते हुए घंटों श्रद्धालु मंदिर के प्रवेशद्वार तक पहुंचे, तो पता चला कि केंद्रीय मंत्री की सुरक्षा और सुविधा के लिए कुछ देर के लिए श्रद्धालुओं की एंट्री रोक दी गई है। यह देख गर्मी से बेहाल श्रद्धालुओं के सब्र का बांध टूट गया और कुछ श्रद्धालु विरोध जताने लगे। जबरन मंदिर में प्रवेश के लिए अड़ गए और सुरक्षागार्ड उन्हें रोकने के लिए तैनात हो गए। ऐसे में श्रद्धालुओं और गार्डों में गाली गलौज के बाद मारपीट हो गई। सेवायतों और दूसरे श्रद्धालुओं ने बीच-बचाव कराया। 

बांकेबिहारी मंदिर में उड़ रहीं कोविड गाइड लाइन की धज्जियां

ठा. बांकेबिहारी मंदिर में भक्तों की भीड़ का दबाव न मास्क और न ही शारीरिक दूरी का ख्याल। जबकि देश में कोरोना की तीसरी लहर का खतरा बरकरार है। ऐसे में भीड़ का दबाव का मंजर किसी बड़े खतरे को दावत तो नहीं दे रहा। मंदिर में उमड़ रही भीड़ को देखकर एहसास होता है कि या तो देश से कोरोना का खतरा खत्म हो गया। न तो मुंह पर मास्क ही नजर आ रहे हैं और न ही शारीरिक दूरी का किसी को कोई ख्याल है। ठा. बांकेबिहारी मंदिर में सुबह मंदिर खुलने से लेकर पट बंद होने तक श्रद्धालुओं का हुजूम किसी बड़े खतरे का अंदेशा दे रहा है। श्रद्धालुओं की भीड़ का दबाव ऐसा कि मंदिर प्रबंधन के सारे इंतजाम धरे के धरे रह जा रहे हैं। गर्मी के मौसम में बाजार में भक्तों की भीड़ मंदिर की ओर बढ़ती है तो मंदिर के सारे बंदोबस्त रखे रह जा रहे हैं। मंदिर के पट खुलने से पहले ही श्रद्धालुओं की भारी भीड़ हर दिन मंदिर के बाहर जुट रही है। भीड़ के आगे मंदिर के सुरक्षागार्ड खुद को असहज महसूस कर रहे हैं। सुरक्षागार्ड श्रद्धालुओं को रोकने की कोशिश भी करते हैं, तो शोर के आगे उनकी एक नहीं चलती। श्रद्धालु बैरीकेडिंग कूदकर भी मंदिर के अंदर पहुंच रहे हैं।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.