पोखरिया मे चुनाव को लेकर जमकर चले लाठी डंडे, पांच गंभीर रूप से घायल

पोखरिया मे चुनाव को लेकर जमकर चले लाठी डंडे, पांच गंभीर रूप से घायल

जिसमें पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए

JagranSat, 17 Apr 2021 05:05 AM (IST)

जागरण टीम, आगरा। थाना निबोहरा के गांव पोखरिया मे चुनावी रंजिश को लेकर संघर्ष हो गया। जिसमें पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।

शुक्रवार सुबह लगभग साढे़ आठ बजे केशव सिंह समर्थकों के साथ लाठी डंडों से लैस होकर गांव पोखरिया निवासी साहब सिंह के घर के बाहर पहुुंच गया। वहां उसने और उसके सर्मथकों ने गाली गलौज शुरू कर दी। विरोध करने पर केशव और उसके समर्थकों ने साहब सिंह के घर पर हमला बोल दिया। दोनों पक्षों में जमकर लाठी-डंडे चले। सूचना मिलते ही फतेहाबाद सर्किल का पुलिस फोर्स पहुंच गया। पुलिस को देखते ही हमलावर भाग गए। पुलिस ने झगड़े में गंभीर रूप से घायल साहब सिंह, महाराज सिंह, डोंगर सिंह, कप्तान सिंह पुत्रगण नत्थी लाल निवासी पोखरिया तथा रामसखी पत्नी कप्तान सिंह को सीएससी फतेहाबाद भिजवाया, जहां से सभी को आगरा रेफर कर दिया गया। साहब सिंह पक्ष ने थाना निबोहरा मे 22 लोगों के विरुद्ध हत्या की कोशिश समेत कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है।

बताते चलें कि केशव सिंह पंचायत चुनाव में प्रधान पद के प्रत्याशी ब्रजमोहन का समर्थन कर रहे हैं और साहब सिंह प्रधान पद के प्रत्याशी राजवीर का समर्थन कर रहे है। चुनाव को लेकर ही दोनों पक्षों में रंजिश हो गई है। इसी को लेकर इनमें विवाद हुआ है। प्रधानी की रंजिश में चले लाठी-डंडे आधा दर्जन से अधिक घायल

बरहन थाना क्षेत्र के गांव सुजानपुर में प्रधानी की रंजिश को लेकर दो पक्षों में चले लाठी-डंडों में आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए। गंभीर रूप से घायलों को पुलिस ने उपचार के लिये आगरा भेजा है।

ग्राम पंचायत चमरौला के मजरा सुजानपुर से प्रधान पद क प्रत्याशी रामवीर यादव व उनके समर्थक गांव चमरौला अपने समर्थकों से मिलने शुक्रवार दोपहर पहुंचे थे। इसकी जानकारी जब दूसरे पक्ष के प्रधान प्रत्याशी समीर यादव को हुई तो वह भी अपने समर्थकों के साथ गांव चमरौला पहुंच गया। आरोप है कि समीर और उनके समर्थकों ने रामवीर यादव के समर्थकों पर लाठी-डंडों से हमला बोल दिया। हमले में रामवीर पक्ष के आधा दर्जन लोग घायल हो गए। झगड़े की सूचना थाना पुलिस को दी गयी पुलिस ने गंभीर रूप से घायल युवक को उपचार के लिए आगरा भेजा है। थाना प्रभारी वीरबहादुर सिंह ने बताया है कि तीस से चालीस लोगों के खिलाफ मुकद्दमा दर्ज किया जा रहा है। रामवीर पक्ष का पुलिस पर मिलीभगत का रहा आरोप

चुनावी रंजिश में हुए झगड़े में घायल रामवीर यादव ने पुलिस पर सौतेले व्यवहार का आरोप लगाया है। उनका आरोप है कि लाठी-डंडों से लैस समीर यादव के लोगों ने उनके ही लोगों को पीटा और पुलिस ने उन्ही के लोगो को हिरासत में ले लिया है। जबकि समीर पक्ष के किसी भी आदमी को हिरासत में नही लिया गया है।

यह रही झगड़े की वजह

गांव चमरौला में कुछ वोटर माहौर समुदाय के है, जिन्होंने वोट रामवीर तथा जिला पंचायत में भाजपा को वोट देने की बात कही थी। इसपर समीर के समर्थकों ने नाराजगी जताई तथा भाजपा को वोट देने के लिए मना किया था। वहीं, नेत्रपाल सिंह माहौर के भतीजे अंकित का वोटर लिस्ट में नाम आ गया था जबकि आधार कार्ड के हिसाब से वह अभी 18 वर्ष का नहीं हुआ था जिसकी सूचना समीर यादव के समर्थकों ने प्रशासनिक अधिकारियों को दे दी थी।

यह हुए घायल

राज यादव पुत्र बादशाह , रामपाल पुत्र रमेश शाह , सचिन पुत्र रामवकील , भूपेन्द्र पुत्र विजय पाल , ब्रजेश पुत्र जगदीश , कमल कांत पुत्र चन्द्रपाल , मनीष पाल पुत्र बीरेन्द्र सिंह , ब्रहमोहन पुत्र अजय पाल शाह , दीपक पुत्र महीपाल सिंह आदि।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.