Electricity Bill Recovery: आगरा जिले के 152393 बिजली उपभोक्ताओं पर 111078 लाख रुपये की बकाएदारी

Electricity Bill Recovery प्रबंध निदेशक ने दिए वसूली के निर्देश अभियान की हुई शुरुआत हर रोज होती है समीक्षा। अन्य बीस जिलों में 1334591 उपभोक्ताओं पर 823654 लाख रुपये की बकाएदारी। जून माह में विभाग ने 1255 करोड़ रुपये की वसूली का लक्ष्य रखा है।

Tanu GuptaFri, 18 Jun 2021 05:08 PM (IST)
बकाएदारों की सूची बनाने के निर्देश भी दिए थे।

आगरा, प्रभजोत कौर। दक्षिणांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड की सिर्फ आगरा जिले के 152393 उपभोक्ताओं पर 111078 लाख रुपये की बकाएदारी है। अगर अन्य बीस जिलों की बकाएदारी की बात करें तो 1334591 उपभोक्ताओं पर 823654 लाख रुपये की बकाएदारी है। इसे लेकर प्रबंध निदेशक गंभीर हैं और बकाएदारों से वसूली के निर्देश दिए हैं।

प्रबंध निदेशक अमित किशोर ने चार्ज संभालते ही बकाएदारों को लेकर स्पष्ट निर्देश जारी कर दिए थे। बकाएदारों की सूची बनाने के निर्देश भी दिए थे। विद्युत विभाग में अब बकाएदारों के खिलाफ अभियान की शुरुआत हो चुकी है। हर अभियंता को लक्ष्य दिया गया है। बड़े बकाएदारों के कनेक्शन काटने के निर्देश हैं, जो तभी जुड़ेंगे जब वो बकाया राशि का कुछ हिस्सा जमा कर देंगे। सबसे पहले 10 हजार से एक लाख रुपये तक के बकाएदारों पर फोकस है। जून माह में विभाग ने 1255 करोड़ रुपये की वसूली का लक्ष्य रखा है। एेसे उपभोक्ताओं पर नजर है, जिन्होंने कनेक्शन ले लिया पर अभी तक एक रुपया भी जमा नहीं कराया है। पिछले दिनों विद्युत विजिलेंस टीम ने शमसाबाद क्षेत्र में चैकिंग अभियान भी चलाया था और 101 बकाएदारों के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज हुआ था।प्रबंध निदेशक अमित किशोर हर रोज बकाएदारों को लेकर समीक्षा भी कर रहे हैं।वह यह भी ध्यान रख रहे हैं कि बेवजह कोई उपभोक्ता परेशान न हो।

अन्य जिलों में बकाया राशि

अलीगढ़ में 49762 लाख रुपये, फिरोजाबाद में 76759 लाख रुपये, हाथरस में 46638 लाख रुपये, इटावा में 125572 लाख रुपये, कानपुर में 23070 लाख रुपये, मथुरा में 63573 लाख रुपये, मैनपुरी में 22560 लाख रुपये, औरेया में 25392 लाख रुपये, बांदा में 34386 लाख रुपये, चित्रकूट में 20673 लाख रुपये, एटा में 19547 लाख रुपये, फर्रुखाबाद में 42980 लाख रुपये, हमीरपुर में 45866 लाख रुपये, जालौन में 35106 लाख रुपये, झांसी में 53182लाख रुपये, कन्नौज में 38255 लाख रुपये, कानपुर देहात में 28969 लाख रुपये, कासगंज में 12927 लाख रुपये, ललितपुर में 19755 लाख रुपये, महोबा में 38673 लाख रुपये।

लोगों से लगातार अपील की जा रही है। कई बार योजनाएं चलाई गईं, लेकिन फायदा नहीं हुआ।एक बार फिर मैं उपभोक्ताओं से अपील करता हूं कि जिनकी बकाया राशि 10 हजार से एक लाख रुपये से ज्यादा है, वे पैसे जमा करा दें।

- अमित किशोर, प्रबंध निदेशक, डीवीवीएनएल 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.