Cinema Hall in Agra: बाजार हुए अनलाक तो सिनेमाघरों से हटना चाहिए ताला, आगरा में सिनेमाघरों को खोलने की उठने लगी मांग

Cinema Hall in Agra कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में कई सिंगल स्क्रीन सिनेमाघर बंदी की कगार पर। बडे़ सुपरस्टार को अपनी फिल्मों को ओटीटी प्लेटफार्म पर रिलीज करना पड़ रहा है। पिछले दिनों सलमान खान की राधे फिल्म भी ओटीटी पर आई।

Tanu GuptaSat, 12 Jun 2021 04:26 PM (IST)
कई छोटे सिनेमाघर बंदी की कगार पर हैं।

आगरा, जागरण संवाददाता। प्रदेश में काेरोना संक्रमण की स्थिति नियंत्रण में है। सभी जगह अनलाक भी हो गया है। ऐसे में आगरा की सिनेमा इंडस्ट्री को भी अनलाक करने और बिजली बिल व मनोरंजन कर को माफ करने की मांग उठने लगी है। सिनेमाघर संचालकों को कहना है कि सिनेमा इंडस्ट्री कोरोना की दोनों लहर में सबसे ज्यादा प्रभावित रही है। सिंगल स्क्रीन सिनेमाघर संचालकों को हर माह करीब ढाई लाख रुपये का नुकसान उठाना पड़ रहा है। ऐसे में कई छोटे सिनेमाघर बंदी की कगार पर हैं।

कोरोना संक्रमण की पहली लहर से सिनेमाघरों में छाया सन्नाटा अब तक बरकरार हैं। कोरोना की पहली लहर में सिनेमाघर छह माह से ज्यादा बंद रहे थे। इसके बाद खुले भी तो आधी क्षमता के साथ। सिनेमाघर संचालकों को उम्मीद थी कि 2021 में सिनेमाघरों में पुरानी रौनक लौटेगी, लेकिन कोरोना की दूसरी लहर ने फिर सिनेमाघरों को वीरान कर दिया है। सिनेमाघर संचालकों का कहना है कि सरकार को सिनेमाघरों को जल्द खोलने की अनुमति देनी चाहिए। इसके अलावा बंदी के दौरान का बिजली का फिक्स चार्ज व लाइसेंस फीस माफ करनी चाहिए। बंद सिनेमाघरों में हर माह करीब ढाई लाख तक का नुकसान उठाना पड़ रहा है। कई सिनेमाघर तो ऐसे हैं जो पिछले साल से खुले ही नहीं हैं। कोरोना काल में सिनेमाघरों का करीब 70 करोड़ रुपये का कारोबार प्रभावित हुआ है। सिनेमाघरों से जुडे़ करीब 600 परिवार भी प्रभािवत हैं।

सवा लाख रुपये फिक्स चार्ज

श्री सिनेमा के निमित अग्रवाल ने बताया कि सिनेमाघर भले ही बंद हैं, लेकिन बिजली का बिल चल रहा है। एक वातानुकूलित सिनेमाघर के लिए करीब 220 वाट का कनेक्शन होता है। ऐसे में बिल का फिक्स और एनर्जी चार्ज ही करीब सवा लाख रुपये है। इसके अलावा कर्मचारियों का वेतन और सिनेमाघर के रखरखाव का खर्च करीब सवा लाख रुपये है। ऐसे में बडे़ सिनेमाघर संचालकों को हर माह ढाई लाख रुपये का नुकसान उठाना पड़ रहा है। मल्टीप्लेक्स में यह नुकसान कहीं ज्यादा है।

नहीं रिफंड हुई लाइसेंस फीस

आगरा सिनेमाघर एग्जीबिटर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष व राजीव सिनेमा के सुबोध गर्ग का कहना है कि कोरोना के चलते सिनेमाघरों के हालात खराब हैं। कई सिनेमाघर बंदी की कगार पर है। सरकार को जल्द सिनेमाघरों को खोलने की अनुमति देनी चाहिए। हीं, सरकार ने पिछले साल आधी लाइसेंस फीस माफ करने की घोषणा की थी, लेकिन अधिकांश सिनेमाघर संचालकों की फीस रिफंड नहीं हुई है। सिनेमाघर इंडस्ट्री को जिंदा रखने के लिए सरकार को बिजली के बिल का फिक्स चार्ज माफ करना चाहिए।

ओटीटी पर रिलीज हो रहीं फिल्में

कोरोना के चलते सिनेमाघर बंद हैं। ऐसे में बडे़-बडे़ सुपरस्टार को अपनी फिल्मों को ओटीटी प्लेटफार्म पर रिलीज करना पड़ रहा है। पिछले दिनों सलमान खान की राधे फिल्म भी ओटीटी पर आई। इससे पहले अक्षय कुमार की लक्ष्मी फिल्म भी आेटीटी पर ही रिलीज हुई।

शहर में ये हैं सिंगल स्क्रीन सिनेमाघर

श्री सिनेमा, हीरा टाकीज, भगवान टाकीज, ज्वाला टाकीज, भारत सिनेमा, शांति सिनेमा, राजीव सिनेमा, मेहर टाकीज, संजय टाकीज, चित्रा, पन्ना टाकीज, संगीता टाकीज। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.