शहर में चरमराई सफाई व्यवस्था, जगह-जगह जलभराव

रुक-रुक कर होती रही बारिश नालों में बह गया कई टन कूड़ा ठीक से पंपों का नहीं हुआ संचालन नगर निगम के अफसरों की खुली पोल

JagranFri, 17 Sep 2021 08:42 PM (IST)
शहर में चरमराई सफाई व्यवस्था, जगह-जगह जलभराव

आगरा, जागरण संवाददाता । शहर में शुक्रवार को मानसून मेहरबान रहा। अलसुबह से शुरू हुई बारिश देर रात तक रुक-रुक कर होती रही। इससे सफाई व्यवस्था चरमरा गई। सुबह ठीक से न तो झाड़ू लग सकी और न ही कूड़े का उठान हो सका। दोपहर में तेज बारिश के चलते कई टन कूड़ा नालों में बह गया। पाश कालोनियों से लेकर मलिन बस्तियों तक में जलभराव हुआ। ठीक तरीके से पंपों का संचालन नहीं हुआ। जलभराव से नगर निगम के अफसरों की पोल खुल गई। 80 से अधिक लोगों ने नगर निगम के अफसरों को फोन कर जलभराव की शिकायतें कीं।

नगरायुक्त की कोठी के सामने हाईवे बना तालाब : बारिश के चलते नेशनल हाईवे-19 पर जगह-जगह जलभराव हुआ। नगरायुक्त की कोठी के सामने हाईवे तालाब बन गया। वाहनों की रफ्तार पर ब्रेक लग गया। नगरायुक्त की नाराजगी के बाद भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण, मथुरा खंड की टीम ने दो टैंकर लगाकर जल निकासी कराई। इन क्षेत्रों में हुआ जलभराव : यमुना किनारा रोड, आगरा किला के सामने, फतेहाबाद रोड, आइएसबीटी गेट के पास, आवास विकास कालोनी सेक्टर दो और गढ़ी भदौरिया रोड, महर्षिपुरम, विजय नगर पुलिस चौकी के पास, गोबर चौकी, राधा नगर, प्रेम नगर, खंदारी रोड, दयालबाग सौ फुटा रोड।

नवल किशोर अस्पताल के सामने रोड धंसी : बारिश के चलते शुक्रवार को सुबह बाग फरजाना में नवल किशोर अस्पताल के सामने रोड धंस गई। यहां कुछ ही समय पहले सीवर लाइन बिछाई गई थी।

रायल पब्लिक स्कूल फ्लाईओवर की रेलिग गिरी, हादसा टला : बारिश के चलते शुक्रवार को सुबह आठ बजे रायल पब्लिक स्कूल फ्लाईओवर, नेशनल हाईवे-19 की रेलिग ढह गई। हादसा होने से टल गया। मंगलम अस्पताल के सामने 15 मीटर हिस्से की रेलिग गिरने से अफरातफरी मच गई। लोगों ने इसकी शिकायत भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अफसरों से की। दोपहर 12 बजे से प्राधिकरण की टीम ने ढही रेलिग की मरम्मत शुरू करा दी। गनीमत रही मलबे की चपेट में कोई नहीं आया। ठीक से नहीं हुई नालों की सफाई : ख्वासपुरा की पार्षद जरीना बेगम का कहना है कि इस साल नालों की सफाई ठीक से नहीं हुई है। जरा सी बारिश में जलभराव हो रहा है। इससे लोगों को परेशान होना पड़ता है।

नहीं साफ हुए भूमिगत नाला : घटिया आजम खां क्षेत्र के पार्षद शिरोमणि सिंह का कहना है कि शहर में 15 भूमिगत नाले हैं। इस साल नालों की ठीक से सफाई नहीं हुई है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.