Wall of Dispute: आगरा में एक दीवार करा रही बार-बार विवाद, सत्‍संगी और प्रशासन आए आमने-सामने

राधा बाग में दीवार गिराने पर आमने-सामने आए सत्संगी और प्रशासनिक अधिकारी। थाना दिवस पर अतिक्रमण की शिकायत करने पर तहसील सदर की टीम ने गिराई दीवार। देर शाम जुटे सत्संगियों का हंगामा सोमवार को दस्तावेजों के साथ सत्संगियों काे बुलाया गया।

Prateek GuptaSun, 25 Jul 2021 09:02 AM (IST)
शनिवार रात दयालबाग में विवाद के दौरान पुलिस व प्रशासनिक अफसर।

आगरा, जागरण संवाददाता। न्यू आगरा में शनिवार की शाम को प्रशासन और सत्संगी आमने-सामने आ गए। जिससे तनाव की स्थिति पैदा हो गई। जानकारी होने पर थाने का फोर्स मौके पर पहुंच गया। सत्संगियाें ने प्रशासनिक अधिकारियों पर बिना किसी आदेश के उनकी जमीन पर बनी दीवार गिराने का आरोप लगाते हुए हंगामा कर दिया। पुलिस-प्रशासन के अधिकारी और सत्संगी कई घंटे तक आमने-सामने डटे रहे। अधिकारियों द्वारा सत्संगियों को जमीन पर अपने अपने दावे के समर्थन में सोमवार को तहसील सदर कार्यालय पर आकर दस्तावेज प्रस्तुत करने की कहा गया। इसके बाद मामला शांत हुआ।

न्यू आगरा में शनिवार काे थाना दिवस में दयालबाग स्थित राधा बाग में अतिक्रमण की शिकायत की गई थी। जिसके बाद दोपहर में सदर तहसील की टीम वहां दीवार ढहाने पहुंच गई। उसने 22 फीट लंबी और पांच फीट ऊंची दीवार जेसीबी से ढहा दी। इसकी जानकारी होने पर दर्जनें सत्संगी वहां जुट गए। सत्संगियों ने आरोप लगाया कि तहसील सदर की टीम ने बिना कोई आदेश दिखाए दीवार को गिरा दिया।

राधा स्वामी सत्संग सभा के सचिव जीपी सत्संगी के मुताबिक नहर के दोनों ओर उन्होंने आठ से दस फीट जगह छोड़ रखी है। यह नहर वर्ष 1935 में सत्संग सभा की जमीन पर बनाई गई थी। दीवार को उन्होंने सुरक्षा के मद्देनजर बनाया था। प्रशासन की टीम ने बिना कोई आदेश दिखाए दीवार को जेसीबी की मदद से ढहा दिया। मामले में सत्संग सभा का पक्ष तक नहीं सुना। टकराव की आशंका पर सीओ हरीपर्वत लखन, एसीएम प्रथम जेपी पांडेय, एसडीएम लक्ष्मी एन. और कई थानों का फोर्स मौके पर पहुंच गया।

वहीं, मामले में तहसीलदार सदर प्रेमपाल सिंह ने बताया कि चक रोड से कब्जे का प्रयास किया गया था। थाना दिवस में शिकायत पर अतिकमण हटाया गया है।सत्संगियों का दावा है कि दीवार अपनी जमीन पर है। राधा स्वामी सत्संग सभा को दावे से संबंधित दस्तावेज सोमवार को कार्यालय आकर प्रस्तुत करने की है।

चार महीने पहले भी हुआ था हंगामा

दीवार गिराने को लेकर इस साल मार्च में भी हंगामा हुआ था। तत्कालीन एसडीएम सदर एम. अरून्मौली टीम के साथ दीवार गिराने पहुंची थीं। उन्होंने दीवार को गिरा दिया था। जिसे लेकर सत्संगियों और प्रशासन की टीम में टकराव की स्थिति पैदा हो गई थी। सत्संगियों ने न्यू आगरा थाने का घेराव कर लिया था। अधिकारियों ने किसी तरह से मामले को शांत किया था।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.