Vehicle Registration: आगरा परिक्षेत्र में प्रदूषण रोकने को बड़ा कदम, 15 वर्ष पुराने 1.82 लाख वाहनों का पंजीयन रद

आगरा में 15 साल से ज्‍यादा पुराने वाहनों का पंजीयन निरस्‍त कर दिया गया है।

ताज ट्रेपेजियम जोन के अंतर्गत के आगरा मथुरा व फीरोजाबाद में की गई कार्रवाई। वायु व ध्वनि प्रदूषण फैलाने पर 24.53 लाख जुर्माना। आगरा में वायु प्रदूषण के लिए जिम्मेदार अति सूक्ष्म कणों में वाहनों का 19 फीसद योगदान पाया गया था।

Publish Date:Tue, 19 Jan 2021 12:38 PM (IST) Author: Prateek Gupta

आगरा, जागरण संवाददाता। ताज ट्रेपेजियम जोन (टीटीजेड) के आगरा, मथुरा व फीरोजाबाद में 15 वर्ष पुराने 1.82 लाख वाहनों के पंजीयन रद किए गए हैं। सर्वाधिक वाहनों के पंजीयन आगरा में रद हुए हैं। वहीं, वायु व ध्वनि प्रदूषण करने वाले वाहनों से 24.53 लाख रुपये जुर्माना वसूला गया है।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) द्वारा भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आइआइटी), कानपुर से ताजमहल केंद्रित सोर्स अपोर्शनमेंट स्टडी कराई गई थी। आगरा में वायु प्रदूषण के लिए जिम्मेदार अति सूक्ष्म कणों में वाहनों का 19 फीसद योगदान पाया गया था। इसके बाद टीटीजेड में शामिल आगरा, मथुरा व फीरोजाबाद में 15 वर्ष पुराने गैर-परिवहन वाहनों पर प्रतिबंध लगाया गया है। पिछले माह हुई टीटीजेड अथारिटी की बैठक में संभागीय परिवहन कार्यालय (आरटीओ) द्वारा अवगत कराया गया कि तीनों जिलाें में जुलाई, 2020 तक 15 वर्ष पुराने 182793 वाहनों का पंजीयन रद किया गया है। अगस्त, 2020 तक वायु प्रदूषण फैलाने वाले 579 वाहनों के चालान काटते हुए 8.05 लाख रुपये का जुर्माना वसूला गया। ध्वनि प्रदूषण फैलाने पर 399 वाहनों के चालान किए गए और 16.48 लाख रुपये जुर्माना वसूला गया। टीटीजेड में 59 प्रदूषण जांच केंद्र संचालित किए जा रहे हैं। टीटीजेड के चेयरमैन कमिश्नर ने 15 वर्ष पुराने वाहनों का संचालन बंद कराने, संचालित मिलने पर जुर्माना करते हुए ऐसे वाहनों को बंद कराने के निर्देश दिए।

कहां कितने वाहनों के पंजीयन रद

शहर, वाहन

आगरा, 108315

फीरोजाबाद, 25239

मथुरा, 49239

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.