अटल टनल से आगरा का है कनेक्शन

अटल टनल से आगरा का है कनेक्शन
Publish Date:Wed, 30 Sep 2020 06:22 AM (IST) Author: Jagran

आगरा, जागरण संवाददाता। जम्मू-कश्मीर में बनाई गई 'अटल टनल' से आगरा का भी कनेक्शन है। उसके निर्माण में शमसाबाद रोड निवासी ब्रिगेडियर मनोज कुमार (सेवानिवृत्त) ने अमूल्य योगदान दिया था। उनके प्रयासों से योजना पर व्यय होने वाले एक हजार करोड़ रुपये की बचत हुई। बुधवार को शहर की संस्थाओं द्वारा उनका अभिनंदन किया जाएगा।

विश्व में सर्वाधिक ऊंचाई पर निíमत लगभग नौ किलोमीटर लंबी अत्याधुनिक अटल टनल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन अक्टूबर को राष्ट्र को समíपत करेंगे। इसके साथ ही रोहताग से लद्दाख तक की दूरी करीब 46 किमी कम हो जाएगी।

राष्ट्रीय सुरक्षा जागरण मंच के उपाध्यक्ष रविंद्र पाल सिंह टिम्मा ने बताया कि अटल टनल का आगरा कनेक्शन भी है। थल सेना के लिए अत्यंत उपयोगी इस प्रोजेक्ट को बनाने में आगरा के ब्रिगेडियर मनोज कुमार ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। टनल बना रही कार्यदायी संस्था ने सैरी नाले के करीब अत्यंत कठिन 700 मीटर के रास्ते की वजह से काम रोक दिया था। उसने एक अन्य मार्ग से टनल बनाने की रूपरेखा तैयार कर सीमा सड़क संगठन के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल आरएम मित्तल को प्रस्ताव भेजा था। ब्रिगेडियर मनोज कुमार ने उस समय अपनी सूझ-बूझ से कार्यदायी संस्था के प्रस्ताव का विरोध किया था। अन्य रास्ते से टनल बनाने पर देश पर करीब 1500 करोड़ रुपये का अतिरिक्त बोझ पड़ता।

कर्नल जीएम खान ने बताया कि ब्रिगेडियर मनोज कुमार ने सीमा सड़क संगठन के महानिदेशक व देश के तत्कालीन रक्षा मंत्री मनोहर पार्रिकर से मुलाकात कर सुरंग को सैरी नाले से ही बनाने की योजना मंजूर करवाई। इससे देश की एक हजार करोड़ रुपये की बचत हो गई। वर्तमान में ब्रिगेडियर मनोज कुमार सेना में भर्ती होने के इच्छुक युवाओं को तैयारी कराते हैं। राष्ट्रीय सुरक्षा जागरण मंच के राष्ट्रीय मंत्री रजनीश त्यागी ने बताया कि आगरा चैप्टर और शहर की सामाजिक संस्थाएं बुधवार शाम होटल ग्राड में बिग्रेडियर मनोज कुमार का अभिनंदन करेंगीं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.