Agra Smart City: 50 फीसद सीसीटीवी कैमरे और पैनिक बटन खराब, आगरा में बेल पर 5.60 करोड़ रुपये का जुर्माना

आपरेशनल वर्क को किया गया निलंबित। 283 करोड़ से बने इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर का ठीक से नहीं हो रहा संचालन। लगातार नोटिस के बाद भी कार्यशैली में नहीं आया सुधार। डेढ़ साल पूर्व 1.90 करोड़ का लगा था जुर्माना। पीएम से लोकार्पण की तैयारी।

Nirlosh KumarWed, 15 Sep 2021 02:59 PM (IST)
आगरा स्मार्ट सिटी में खराब काम पर बेल पर लगाया गया जुर्माना।

आगरा, जागरण संवाददाता। एमजी रोड हो या फिर वीआइपी रोड। इन रोड पर लगे 50 फीसद कैमरे और पैनिक बटन खराब पड़े हुए हैं। सिग्नलिंग भी ठीक नहीं है। इससे शहर की सुरक्षा को खतरा पैदा हो गया है और 283 करोड़ रुपये से बने इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर का संचालन ठीक से नहीं हो पा रहा है। लगातार नोटिस देने के बाद भी भारत इलेक्ट्राेनिक्स लिमिटेड (बेल) के इंजीनियरों की कार्यशैली में सुधार नहीं आया। लापरवाही पर आगरा स्मार्ट सिटी लिमिटेड ने बेल पर 5.60 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है। आपरेशनल वर्क को निलंबित कर दिया गया है। डेढ़ साल पूर्व 1.90 करोड़ रुपये का जुर्माना लगा था जिसे बेल द्वारा जमा करा दिया गया था। वहीं, 26 सितंबर को लखनऊ में होने वाले कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस योजना के लोकार्पण की तैयारी चल रही है। समय पर हर कार्य पूरा हो जाए, इसके प्रयास किए जा रहे हैं। जल्द इसकी सूची नगर विकास विभाग को भेजी जाएगी।

एक हजार करोड़ रुपये का है स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट

वर्ष 2017 में आगरा का स्मार्ट सिटी में चयन हुआ था। एक हजार करोड़ रुपये से ताजगंज और उसके आसपास के नौ वार्डों को विकसित किया जा रहा है। इसमें 105 करोड़ रुपये से फतेहाबाद रोड का सुंदरीकरण भी शामिल है।

नगर निगम में है कंट्रोल रूम

इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर नगर निगम परिसर में बना है। कोरोना संक्रमण की पहली और दूसरी लहर में कंट्रोल रूम का बेहतर तरीके से इस्तेमाल किया गया। अस्पतालों में बेड सहित अन्य का डाटा आसानी से मिल जा रहा था।

डेढ़ साल पूर्व सौ फीसद चालू थे सीसीटीवी कैमरे

24 फरवरी, 2020 को तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप आगरा आए थे। ताजमहल का दीदार किया था। आगरा एयरफोर्स स्टेशन से ताजमहल तक सीसीटीवी कैमरों से निगरानी की गई थी। डेढ़ साल पूर्व वीआइपी रोड के सभी सीसीटीवी कैमरे चालू थे।

इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर एक नजर में

- शहरभर में 1226 सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने हैं। अब तक 1170 कैमरे लग चुके हैं। बाकी कैमरों को लगाने का कार्य चल रहा है।

- शहर में 56 चौराहों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जा रहे हैं। अब तक 32 चौराहों में कैमरे लग चुके हैं।

- आपातकाल के मद्देनजर 32 पैनिक बटन लगाए जा रहे हैं। यह एमजी रोड, माल रोड, फतेहाबाद रोड, यमुना किनारा रोड सहित अन्य में शामिल हैं।

- मई से दस सितंबर, 2021 के बीच सीसीटीवी कैमरों का संचालन 48 से 50 फीसद के बीच रहा है।

- आगरा स्मार्ट सिटी प्रा. लि. और बेल के बीच अनुबंध हुआ। इसके तहत 95 फीसद सीसीटीवी कैमरों का संचालन होना चाहिए। पांच फीसद कैमरों को चार घंटे के भीतर ठीक करने की शर्त है। इस कार्य में बेल पूरी तरह से फेल रहा है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.