Coronavirus Vaccine: वैक्सीन लगवाने के बाद लगाना होगा मास्क, पढ़ें वैक्सीनेशन के बाद की जरूरी बातें

ध्यान रखने की हैं कोरोना वायरस वैक्सीन लगने के बाद की ये बातें। प्रतीकात्मक फोटो

Coronavirus Vaccine वैक्सीन की दूसरी डोज लगने के 14 दिन बाद बनेंगी एंटीबाडीज। आठ महीने तक शरीर में रहेंगी एंटीबाडीज। शनिवार को छह केंद्रों पर कोरोना वैक्सीन लगाई गई 600 में से 361 स्वास्थ्य कर्मियों ने कोरोना वैक्सीन लगवाई।

Publish Date:Mon, 18 Jan 2021 08:10 AM (IST) Author: Tanu Gupta

आगरा, जागरण संवाददाता। कोरोना संक्रमण से बचने के​ लिए मास्क सुरक्षा कवच है, इस सुरक्षा कवच को छोडना नहीं हैं। जिन्हें वैक्सीन लगाई गई, उनसे कहा जा रहा है कि मास्क जरूरी पहनना है। मास्क पहनने, शारीरिक दूरी का पालन करने और हाथ धोने से ही कोरोना की चेन को ब्रेक कर सकते हैं।

शनिवार को छह केंद्रों पर कोरोना वैक्सीन लगाई गई, 600 में से 361 स्वास्थ्य कर्मियों ने कोरोना वैक्सीन लगवाई। वैक्सीन लगाते समय समझाया गया कि मास्क नहीं उतारना है। एसएन मेडिकल कालेज के प्राचार्य डा संजय काला ने बताया कि वैक्सीन लगने के तुरंत बाद एंटीबाडीज नहीं बनेंगी, वैक्सीन की दूसरी डोज लगने के 14 दिन बाद कोरोना के खिलाफ एंटीबाडीज बनने लगेंगी। मगर, हर व्यक्ति के अंदर अलग अलग एंटीबाडीज बनेंगी, ट्रायल में भी अलग अलग कंपनियों द्वारा वैक्सीन लगवाने के बाद कोरोना से बचाव के अलग अलग दावे किए हैं। ऐसे में जरूरी है कि मास्क और साबुन से हाथ धोना ना भूलें, स्वास्थ्य कर्मियों के लिए यह बहुत जरूरी है। वे इससे कोरोना के साथ ही अन्य बीमारियों से भी बच सकेंगे।

इस तरह लगाई जाएगी पहले चरण में वैक्सीन की दो डोज

केंद्रीय स्वास्थ्य कर्मी 100

राज्य स्वास्थ्य कर्मी 25170

एयर फोर्स मेडिकल सर्विसेज 1010

कोरोना वैक्सीन का पहला चरण

सरकारी और निजी अस्पताल 1428

पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को लगेगी कोरोना वैक्सीन 18901

कोरोना वैक्सीन के लिए बनाए गए केंद्र 68 45 शहरी क्षेत्र और 23 ग्रामीण क्षेत्र

टीमों को दिया गया प्रशिक्षण 495

साइड इफेक्ट पर नजर रखने के लिए प्रशिक्षित किए गए डाक्टर 85 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.