top menutop menutop menu

Breaking: शीत लहर में प्रशासन ने दी बच्‍चों को राहत, 23 को हुआ अवकाश घोषित Agra News

आगरा, जागरण संवाददाता। शहर में चल रही शीतलहर को दृष्टिगत रखते हुए प्रशासन ने 23 जनवरी को जनपद के कक्षा नर्सरी से 12 वीं तक के स्‍कूल बंद रखने के आदेश दिए हैं। बुधवार को सुबह घनेे कोहरे के कारण स्‍कूली बच्‍चों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा था। अभिभावकाेें की मांग को देखते हुए जिलाधिकारी पीएन सिंह ने परिषदीय, अनुदानित, मान्यता प्राप्त राजकीय, कान्वेंट, मिशनरीज(हिंदी/अंग्रेजी माध्यम) के शिक्षण संस्थान बंद रखने के आदेश दिए हैं।

बीते पांच दिन से लगातार शहर में यही आलम है कि सुबह 10.30 से 11 बजे तक दृश्यता शून्य जैसी स्थिति है। दोपहर 12 बजे सूरज निकल रहा है लेकिन बादलों के बीच ढंका हुआ। उसकी गर्माहट का अहसास हो नहीं पा रहा। दोपहिया वाहन चालकों के हाथ दस्तानों के भीतर भी सुन्न से पड़े हैं। न्यूनतम तापमान में बेशक जरूर कुछ वृद्धि हुई है लेकिन चूंकि अधिकतम और न्यूनतम तापमान के बीच का अंतर बहुत कम है इसलिए कोल्ड डे जैसी कंडीशन बनी हुई है। मंगलवार को अधिकतम तापमान 17.8 और न्यूनतम तापमान 7.2 डिग्री सेल्सियस आंका गया। दोनों के बीच फासला करीब 10 डिग्री सेल्सियस का। यही वजह है कि ठंड का असर ज्यादा है। बुधवार को भी तापमान में सुधार की गुंजायश नहीं। मौसम से जुड़ी वेवसाइटों के अनुसार इस सप्ताह न्यूनतम तापमान आठ डिग्री सेल्सियस से नीचे ही रहेगा क्योंकि पहाड़ों पर हुई बर्फबारी के चलते मैदानी इलाकों में ठंडी हवाएं परेशान करेंगी। उधर दिल्ली समेत उत्तर भारत के कई शहरों में बारिश को लेकर भी पूर्वानुमान जारी किए जा चुके हैं। ऐसे मेंं बच्‍चोंं की छु्ट्टी घोषित होने से राहत मिली है।   

पड़ोसी जिलों में भी दो दिन का अवकाश

अलीगढ़, हाथरस और मथुरा में शीतलहर के चलते लगातार अवकाश किया जा रहा है। ताजा आदेश के मुताबिक इन तीनों शहरों में प्रशासन ने 22 और 23 जनवरी का अवकाश घोषित कर दिया है।  

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.