नयाबांस में दुर्घटना रोकने को तालाब किनारे लगाई गई लाल झंडी

गांव के मुख्य मार्ग पर बह रहा है तालाब का पानी हादसे का खतरा जलभराव के कारण मार्ग और तालाब नहीं दिखने पर हो जाते हैं हादसे

JagranSat, 24 Jul 2021 06:25 AM (IST)
नयाबांस में दुर्घटना रोकने को तालाब किनारे लगाई गई लाल झंडी

जागरण टीम, आगरा। पिनाहट के नयाबांस में मुख्य मार्ग पर तालाब का पानी बहने से आए दिन दुर्घटना हो रही हैं। लोगों को दुर्घटना से बचाने के लिए ग्रामीणों ने सड़क किनारे लाल झंडी लगा दी हैं। जिससे राहगीरों को रास्ते का अंदाजा लग सके।

इस गांव से लगभग एक दर्जन से ज्यादा लोगों का आवागमन रहता है। गांव के तालाब का पानी मुख्य मार्ग पर बहने के कारण राहगीरों को तालाब और रास्ते का पता नहीं लगने के कारण लोग तालाब में गिर का दुर्घटना का शिकार हो रहे हैं। राहगीरों को मार्ग का अंदाजा लगाने के लिए ग्रामीणों ने सड़क किनारे रस्सी व लाल रंग की झंडी लगा दी हैं ताकि मार्ग की सीमा पता लग सके। ग्रामीणों ने बताया कि यह समस्या एक दशक से वे झेलते आ रहे हैं। अधिकारी व जनप्रतिनिधियों से कई बार समस्या से अवगत कराने के बाद भी समस्या का समाधान नहीं हुआ है। झंडी लगाने वालों में क्षेत्र पंचायत सदस्य श्यामवीर सिंह परिहार, लालू भदौरिया, जयवीर सिंह, मनोज सिंह मौजूद रहे। फसल बर्बाद कर खेत में रास्ता बनाने का आरोप, शिकायत

जागरण टीम, आगरा। खेत में बोई गई फसल को नष्ट कर सड़क निकालने का आरोप लगाया गया है। मामले में पीड़ित ने जिलाधिकारी से शिकायत की है। मूलरूप से निबोहरा के भोगपुरा निवासी हरेंद्र शर्मा नई दिल्ली में रहते हैं। उन्होंने डीएम से की शिकायत में लिखा है कि गांव में उन्होंने अपने खेत में बाजरा की फसल बोई थी। आरोप है कि गांव के ही कुछ लोगों ने तीन जुलाई को उनके खेत पर लगे तारों को काट दिया। मेड़ भी तोड़ दी। उनके भाई महेश चंद शर्मा ने विरोध किया तो उन्हें जान से मारने की धमकी दी गई। आरोप है कि फसल बर्बाद कर उन्होंने खेत में रास्ता निकाल दिया है। तहसील मुख्यालय पर शिकायत के बाद भी कोई सुनवाई नहीं हुई है। मामले में डीएम से कार्रवाई की मांग की गई है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.