दूसरी बार घुटने के ऑपरेशन से पहले निराश था : रोजर फेडरर

पूर्व नंबर एक स्विट्जरलैंड के टेनिस स्टार रोजर फेडरर

कतर ओपन में भाग लेने के लिए यहां पहुंचे फेडरर ने कहा मैं निराश था। निश्चित तौर पर मुझे विश्वास नहीं था कि मुझे दूसरा ऑपरेशन करवाना पड़ेगा। यह ऐसा क्षण होता है जहां आपके दिमाग में कुछ सवाल पैदा हो सकते हैं।

Viplove KumarMon, 08 Mar 2021 10:02 PM (IST)

दोहा, एपी। पूर्व नंबर एक स्विट्जरलैंड के टेनिस स्टार रोजर फेडरर ने एक साल से भी अधिक समय तक प्रतिस्पर्धी टेनिस से दूर रहने पर कभी संन्यास लेने के बारे में गंभीरता से विचार नहीं किया। उन्होंने स्वीकार किया कि दायें घुटने के दूसरे ऑपरेशन से पहले वह निराश थे। साल के पहले ग्लैंड स्लैम ऑस्ट्रेलिया ओपनर से भी वह चोट की वजह से ही दूर रहे थे।

कतर ओपन में भाग लेने के लिए पहुंचे फेडरर ने कहा, 'मैं निराश था। निश्चित तौर पर मुझे विश्वास नहीं था कि मुझे दूसरा ऑपरेशन करवाना पड़ेगा। यह ऐसा क्षण होता है जहां आपके दिमाग में कुछ सवाल पैदा हो सकते हैं।'

यह 39 वर्षीय खिलाड़ी ऑस्ट्रेलियन ओपन 2020 के बाद अपना पहला मैच दोहा में बुधवार को डैन इवांस या जेरेमी चार्डी के बीच खेलेगा। फेडरर ने अपने दायें घुटने का पहला ऑपरेशन फरवरी 2020 में किया था। अपने चार बच्चों के साथ घूमने या मोटर साइकिल पर कहीं जाने से घुटने में सूजन आ जाती जिसके बाद जून में उन्होंने घोषणा की थी कि उन्हें दूसरी बार ऑपरेशन करवाना पड़ा।20 बार के ग्रैंडस्लैम चैंपियन फेडरर अगले कुछ महीनों में अपनी प्रगति पर निगरानी रखकर फिर चीजों का आकलन करेंगे।

उन्होंने कहा, 'मैं जानता हूं कि एक लगभग 40 साल के व्यक्ति के लिए एक साल तक बाहर रहने के बाद वापसी करना मुश्किल होता है। मुझे हैरानी है कि इसमें इतना समय लगा लेकिन मैंने अपनी टीम के साथ मिलकर पहले ही फैसला कर दिया था। मैं समय लेना चाहता हूं। टूर में वापसी के लिए किसी तरह की जल्दबाजी नहीं करना चाहता हूं। महत्वपूर्ण यह है कि मैं चोट मुक्त और दर्द मुक्त रहूं और तभी मैं वास्तव में टूर में अपने खेल का लुत्फ उठा सकता हूं। इसलिए मैं इस पर गौर करूंगा कि चीजें कैसे आगे बढ़ती हैं।'

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.