टेनिस डायरी: ऑस्ट्रेलियन ओपन टेनिस टूर्नामेंट 2021 में विलंब होने की पूरी संभावना

ऑस्ट्रेलियन ओपन टेनिस टूर्नामेंट एक या दो हफ्ते के विलंब की पूरी संभावना है (एपी फोटो)

विक्टोरिया राज्य के खेल मंत्री मार्टिन पाकुला ने कहा है कि 18 जनवरी से मेलबर्न में होने वाले 2021 ऑस्ट्रेलियन ओपन टेनिस टूर्नामेंट एक या दो हफ्ते के विलंब की पूरी संभावना है। पाकुला ने कहा कि साल के पहले ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के आयोजन को स्वीकृति मिलने की उम्मीद है।

Publish Date:Thu, 26 Nov 2020 07:41 AM (IST) Author: Sanjay Savern

लंदन, एपी।  विक्टोरिया राज्य के खेल मंत्री मार्टिन पाकुला ने कहा है कि 18 जनवरी से मेलबर्न में होने वाले 2021 ऑस्ट्रेलियन ओपन टेनिस टूर्नामेंट एक या दो हफ्ते के विलंब की पूरी संभावना है।

पाकुला ने कहा कि सरकार के विभिन्न स्तर और टेनिस अधिकारियों के बीच बातचीत खत्म होने के करीब है और साल के पहले ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के आयोजन को स्वीकृति मिलने की उम्मीद है। पाकुला ने बुधवार को कहा, 'कई संभावित तारीखों पर विचार हो रहा है। मैंने रिपोर्ट देखी है कि इसमें एक या दो हफ्ते के विलंब होने की संभावना है। मुझे लगता है कि अब भी इसके आयोजन की पूरी संभावना है। लेकिन, सिर्फ यही एक विकल्प नहीं है। फिलहाल फ्रेंच ओपन में कई महीनों का विलंब हुआ है और विंबलडन का तो आयोजन ही नहीं हुआ। मुझे अब भी लगता है कि पूरी संभावना है कि विलंब अल्पकालिक होगा। मैं चीजों को दोहराना नहीं चाहता, लेकिन ये काफी जटिल बातचीत है।' 

टाटा ओपन महाराष्ट्र को 2021 सत्र के दूसरे हाफ में जगह देने की मांग

महाराष्ट्र राज्य लॉन टेनिस संघ (एमएसएलटीए) ने एटीपी को पत्र लिखकर टाटा ओपन महाराष्ट्र को 2021 सत्र के दूसरे हाफ में जगह देने को कहा है। एमएसएलटीए ने कोविड-19 महामारी के कारण देश के इस शीर्ष टेनिस टूर्नामेंट का आयोजन फरवरी में कराने में असमर्थता जताई है। राज्य टेनिस संघ एमएसएलटीए अगर इस एटीपी 250 प्रतियोगिता का आयोजन करता है तो उसे कई समस्याओं से जूझना होगा।

राज्य सरकार ने महामारी के कारण अब तक महाराष्ट्र में प्रतियोगिताओं की बहाली को स्वीकृति नहीं दी है और साथ ही बाहर से आने वाले सभी लोगों के लिए 14 दिन का क्वारंटाइन अनिवार्य किया है जिस शर्त को फिलहाल एटीपी मानने को तैयार नहीं है। एटीपी चाहता है कि खिलाडि़यों को क्वारंटाइन के समय से छूट दी जाए और बायो-बबल (कोरोना से बचाव के लिए बनाए गए सुरक्षित माहौल) तैयार किया जाए, जिससे टूर्नामेंट के खर्चे में काफी इजाफा होगा।

टूर्नामेंट निदेशक प्रशांत सुतार ने कहा, '2021 का कैलेंडर दोबारा तैयार किया जा रहा है। इसमें काफी अगर-मगर है। हमने एटीपी से कहा है कि वह बारिश का मौसम खत्म होने के बाद हमें दूसरे हाफ में समय दे। अक्टूबर-नवंबर के बीच का समय हमारे लिए उपयुक्त होगा। एटीपी चाहता है कि खिलाडि़यों को क्वारंटाइन से नहीं गुजरना पड़े, लेकिन हम राज्य सरकार के दिशानिर्देशों से अलग काम नहीं कर सकते। बायो-बबल का मतलब है कि सभी के लिए अलग होटल करना होगा। यह ग्रैंडस्लैम प्रतियोगिता नहीं है, इसलिए इसका प्रबंध करना हमारे लिए थोड़ा मुश्किल है।'

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.