स्लो इंटरनेट स्पीड से मिलेगा छुटकारा, जल्द मिलेगी 100Gbps की इंटरनेट कनेक्टिविटी

नई दिल्ली (टेक डेस्क)। अगर आप इंटरनेट की स्लो स्पीड से परेशान हो गए हैं तो आपकी इस समस्या का समाधान ISRO ने ढूंढ निकाला है। इंडिया स्पेस रिसर्च ऑरगेनाइजेशन (ISRO) ने दावा किया है कि वर्ष 2019 तक भारत में हाइ-स्पीड इंटरनेट स्पीड मुहैया कराई जाएगी। इसके लिए ISRO 4 हेवी-ड्यूटी कम्यूनिकेशन सैटेलाइट लॉन्च करेगा। Gitam यूनिवर्सिटी के 9वें कॉन्वोकेशन के दौरान इंडिया स्पेस रिसर्च ऑरगेनाइजेशन (ISRO) के चेयरमेन डॉ. के सिवान ने बताया कि अगले कुछ वर्षों में देश में यूजर्स हाई-स्पीड गीगाबाइट ब्रॉडबैंड सर्विस को एक्सेस कर पाएंगे।

सरकार ने दी 10,900 करोड़ रुपये की मंजूरी:

इसके अलावा सिवान ने कहा कि ISRO द्वारा जून 2017 में GSAT-19 लॉन्च किया जा चुका है। वहीं, GSAT-11 और GSAT-29 इस वर्ष और GSAT-20 अलगे वर्ष लॉन्च कर दिया जाएगा। ये सभी काफी सैटेलाइट हैं और ये मिलकर पूरे देश में 100Gbps से ज्यादा की हाई बैंडविथ कनेक्टिविटी उपलब्ध कराने में सक्षम हैं। ISRO ने यह भी कंफर्म किया है कि भारत सरकार ने 30 PSLVs और 10 GSLV Mk-3 के लिए 10,900 करोड़ रुपये की मंजूरी दे दी है। इन्हें अगले 4 वर्षों में लॉन्च किया जाएगा। यह उन 50 से ज्यादा स्पेसक्राफ्ट्स में शामिल हैं जिन्हें एजेंसी लॉन्च करनी की तैयारी कर रही है। सिवान ने यह भी बताया कि किस तरह सरकार स्पेस रिसर्च में निवेश कर रही है।

इंटरनेट यूजर बेस में दुनिया में दूसरे नंबर पर भारत:

500 मिलियन इंटरनेट यूजर बेस के लिहाज से भारत दुनिया में दूसरे स्थान पर है। लेकिन ब्रॉडबैंड के मामले में भारत दुनिया में 76वें स्थान पर है। वहीं, मोबाइल इंटरनेट स्पीड की बात करें तो भारत 109वें स्थान पर हैं। यह डाटा पिछले साल ओकला द्वारा किए गए स्पीडटेस्ट ग्लोबल इंडेक्स में जारी किया गया था। औसत मोबाइल स्पीड की बात करें तो भारत में यह 8.8Mbps है। वहीं, ब्रॉडबैंड स्पीड 18.82Mbps है।

यह भी पढ़ें:

Airtel ने idea और Jio की चुनौती में उतारा नया प्लान, अनलिमिटेड कॉलिंग के साथ मिलेगा डाटा का लाभ

BSNL के इस लंबी वैलिडिटी वाले प्लान में मिलेगा 477.3GB डाटा, रिलायंस जियो की छुट्टी

BSNL सबसे पहले करेगा 5G सेवाओं की शुरुआत, जापानी कंपनियों के साथ किया करार

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.