सरकार ने बैन किए चाइनीज कंपनी Xiaomi के ऐप्स, गूगल प्ले स्टोर से भी हुए रिमूव

सरकार ने बैन किए चाइनीज कंपनी Xiaomi के ऐप्स, गूगल प्ले स्टोर से भी हुए रिमूव

भारत सरकार ने एक बार फिर से Xiaomi और Baidu जैसी चाइनीज कंपनियों के कुछ ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया है

Publish Date:Wed, 05 Aug 2020 05:25 PM (IST) Author: Renu Yadav

नई दिल्ली, टेक डेस्क। भारत सरकार ने चीन पर डिजिटल स्ट्राइक करते हुए जून में एक साथ कुल 59 चाइनीज ऐप्स पर प्रतिबंध लगाया था। सरकार ने इन ऐप्स को देश की "संप्रभुता और अखंडता" के लिए खतरा बताया था। इन 59 चाइनीज ऐप में ByteDance का लोकप्रिय वीडियो शेयरिंग ऐप TikTok, Alibaba का यूएसी ब्राउजर और Xiaomi का Mi Community app भी शामिल है। इसके बाद कंपनी ने हाल ही में 47 चाइनीज ऐप्स पर बैन लगाया था जिसमें ज्यादातर क्लोन, या कुछ अलग-अलग वर्जन शामिल थे। 

वहीं अब न्यूज एजेंसी Reuters की रिपोर्ट के अनुसार सरकार ने कुछ और चाइनीज ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया है। एजेंसी को सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बैन किए गए ऐप्स में Xiaomi के Mi Browser Pro और सर्च ऐप Baidu शामिल हैं। हालांकि, पिछली बार की तरह सरकार ने इस प्रतिबंध को सार्वजनिक नहीं किया है। लेकिन गूगल प्ले स्टोर से इन ऐप्स का हटा दिया गया है। इससे स्पष्ट होता है कि इन्हें बैन किया गया है। 

रिपोर्ट के अनुसार अभी तक यह स्पष्ट नहीं है कि इस प्रतिबंध से कितने ऐप्स प्रभावित हुए हैं। भारत के आईटी मंत्रालय और नई दिल्ली में चीनी दूतावास ने टिप्पणी के अनुरोध का जवाब नहीं दिया। बता दें कि चीन ने पहले भी भारत के ऐप्स पर प्रतिबंध लगाने के फैसले की आलोचना की थी। वहीं भारत में Xiaomi के एक प्रवक्ता ने कहा कि कंपनी इस डेवलपमेंट को समझने की कोशिश कर रही है और इसके लिए उचित उपाय भी करेगी। वहीं Baidu ने इस बारे में कोई टिप्पणी करने से इनकार कर दिया।

वैसे आधिकारिक तौर पर अभी तक इस बारे में कोई घोषणा नहीं की गई है लेकिन Mi Browser ऐप, जो कि ज्यादातर Xiaomi स्मार्टफोन्स में प्री-लोडेड आता है, इस पर प्रतिबंध लगाने का मतलब यह हो सकता है कि चीनी फर्म को इसे भारत में बेचे जाने वाले नए उपकरणों पर स्थापित करने से रोकने की आवश्यकता होगी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.