Chhath Puja 2021: छठ का संदेश: स्वच्छता धारण करने तथा स्वच्छ समाज और पर्यावरण बनाने का त्योहार है छठ पर्व

Chhath Puja 2021 प्रकृति और मनुष्य का साथ अनादि काल से चलता चला आया है। छठ पर्व इसी का प्रतीक है जहां प्रकृति का एक अंश होकर मनुष्य इस त्योहार को मनाता है। छठ एक ऐसा त्योहार है जिसमें मंत्र लोक परंपराएं हैं।

Kartikey TiwariWed, 10 Nov 2021 08:45 AM (IST)
Chhath Puja 2021: छठ का संदेश: स्वच्छता धारण करने तथा स्वच्छ समाज और पर्यावरण बनाने का त्योहार है छठ पर्व

Chhath Puja 2021: प्रकृति और मनुष्य का साथ अनादि काल से चलता चला आया है। छठ पर्व इसी का प्रतीक है, जहां प्रकृति का एक अंश होकर मनुष्य इस त्योहार को मनाता है। छठ एक ऐसा त्योहार है जिसमें मंत्र लोक परंपराएं हैं। यहां मंत्र छठ के गीत हैं, जो मानव के उत्सवधर्मी स्वभाव को प्रदर्शित करते हैं। व्रत को एक पारंपरिक उत्सव में परिवर्तन का कार्य भी भारत में ही संभव है। जब आपसी हेलमेल और सर्वसमाज की कल्पना लिए हुए छठ मैया के गीत बजते हैं तो भारत की वह पुरातन संस्कृति अधुनातन परिवेश लिए हुए नदी घाटों पर सर्वसमाज की भीड़ में विभिन्न परिधानों में प्रकृति की छटा के रूप में सामने आ ही जाती है।

छठ पूजा में प्रयोग होने वाली समस्त सामग्री को हम प्रकृति से ही लेते हैं और प्रकृति को ही अर्थात् सूर्य को ही समर्पित करते हैं। सूर्य देव जीवन का आधार हैं। साथ ही साथ वह पर्यावरण और प्रकृति के संपूरक एवं समन्वयक भी हैं। सूर्य जैसी समत्ववादी दृष्टि शायद कहीं और किसी में नहीं है। सूर्य से जितना प्रकाश वनस्पतियों को प्राप्त होता है, नदियों को, पर्वतों को मिलता है उतना ही मनुष्य को भी हासिल होता है।

सूर्य कहता है कि वही समाज सुखी और समृद्ध होगा, जिसमें परस्पर भेदभाव नहीं होगा, इसीलिए वह भेद नहीं करता। सूर्य की उपासना के लिए हमारे जो व्रत बने हुए हैं, छठ उसमें महत्वपूर्ण व्रत है, क्योंकि प्रकृति की अनुकंपा से जो फल-फूल और सब्जियां आदि प्राप्त होती हैं उसी के सहारे छठ की पूजा की जाती है।

छठ पर्व जीवन में स्वच्छता धारण करने तथा स्वच्छ समाज और पर्यावरण बनाने का त्योहार है। इसमें मानसिक, वैचारिक और दैहिक साथ ही साथ पर्यावरणीय स्वच्छता का भी ध्यान दिया जाता है। छठ का उपास्य सूर्य अपनी सुंदर आभा उगते समय भी वैसी ही देता है, जैसी वह अस्ताचल को जाते समय देता है और एक समान रूप से सबकी समता का साक्षी बनता है।

आरएन त्रिपाठी

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.