Aaj Ka Panchang: आज है शनि अमावस्या और सूर्य ग्रहण का विशिष्ट संयोग, जानें 04 दिसंबर 2021 का पंचांग

Aaj Ka Panchang आज 04 दिसंबर शनिवार का दिन है।हिंदी पंचांग के अनुसार आज मार्गशीर्ष माह के कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि है। इसके साथ ही आज शनि अमावस्या के दिन साल का आखिरी सूर्य ग्रहण भी लगा रहा है।

Jeetesh KumarPublish:Sat, 04 Dec 2021 05:00 AM (IST) Updated:Sat, 04 Dec 2021 05:00 AM (IST)
Aaj Ka Panchang:  आज है शनि अमावस्या और सूर्य ग्रहण का विशिष्ट संयोग, जानें 04 दिसंबर 2021 का पंचांग
Aaj Ka Panchang: आज है शनि अमावस्या और सूर्य ग्रहण का विशिष्ट संयोग, जानें 04 दिसंबर 2021 का पंचांग

Aaj Ka Panchang: आज 04 दिसंबर, शनिवार का दिन है।हिंदी पंचांग के अनुसार आज मार्गशीर्ष माह के कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि है। शनिवार और अमावस्या तिथि एक साथ होने के कारण शनि अमावस्या के संयोग का निर्माण हो रहा है। इसके साथ ही आज के दिन साल का आखिरी सूर्य ग्रहण भी लगा रहा है। हालांकि ये ग्रहण आंशिक या उपछाया सूर्य ग्रहण है इसलिए इसका सूतक मान्य नहीं होगा। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार सूर्य ग्रहण सुबह 10 बजकर 59 मिनट से शुरू होकर शाम को 03 बजकर 07 मिनट तक लगेगा। इसके अतिरिक्त आज के पंचांग में शुभ मुहूर्त, राहुकाल, दिशाशूल के अलावा सूर्योदय, सूर्यास्त, चंद्रोदय, चंद्रास्त आदि के बारे में भी जानकारी दी जा रही है।

आज का पंचांग

आज 4 दिसंबर 2021 का पंचांग

आज का दिशाशूल: पूर्व।

आज का राहुकाल: प्रात: 09:00 बजे से 10:30 बजे तक।

आज का पर्व एवं त्योहार: अमावस्या, कमला जयंती।

विशेष: अदृश्य सूर्य ग्रहण भारत में, राशि परिवर्तन मंगल वृश्चिक राशि में।

विक्रम संवत 2078 शके 1943 दक्षिणायन, दक्षिणगोल, हेमंत ऋतु मार्गशीर्ष मास कृष्ण पक्ष की अमावस्या 13 घंटे 13 मिनट तक, तत्पश्चात् प्रतिपदा अनुराधा नक्षत्र 10 घंटे 48 मिनट तक।

सूर्योदय और सूर्यास्त

आज के दिन सूर्योदय प्रात:काल 06 बजकर 59 मिनट पर हुआ है, वहीं सूर्यास्त शाम को 05 बजकर 24 मिनट पर होगा।

चंद्रोदय और चंद्रास्त

चंद्रोदय स्पष्ट नहीं है। चंद्र के अस्त का समय शाम को 05 बजकर 26 मिनट पर है।

आज का शुभ समय

ब्रह्म मुहूर्तः प्रातः 05 बजकर 10 मिनट से 06 बजकर 04 मिनट तक।

अभिजित मुहूर्त: आज दिन में 11 बजकर 50 मिनट से दोपहर 12 बजकर 32 मिनट तक।

विजय मुहूर्त: दोपहर 01 बजकर 56 मिनट से दोपहर 02 बजकर 37 मिनट तक।

अमृत काल: आज शाम को 12 बजकर 06 मिनट से दोपहर 01 बजकर 29 मिनट तक।

डिस्क्लेमर

''इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना में निहित सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्म ग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारी आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना के तहत ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।''